तांत्रिक द्वारा रची गयी हत्या की खौफनाक साजिश, जो उड़ा देगी आपके होश

पहले आंखों के सामने शारीरिक संबंध बनाने को कहा, फिर कपल पर फेवीक्विक डाल कर रेत दिया गला

 
Horrible conspiracy of murder created by Tantrik, which will blow your senses

एक 55 वर्षीय तांत्रिक को एक पुरुष और एक महिला की हत्या करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया। यह गिरफ्तारी तब हुई जब पुलिस को उनकी हत्या के तीन दिन बाद 18 नवंबर को राजस्थान के उदयपुर में केलाबावाड़ी के वन क्षेत्र में उनके नग्न शव मिले थे।

एक 55 वर्षीय तांत्रिक को एक पुरुष और एक महिला की हत्या करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया। यह गिरफ्तारी  तब हुई जब पुलिस को उनकी हत्या के तीन दिन बाद 18 नवंबर को राजस्थान के उदयपुर में केलाबावाड़ी के वन क्षेत्र में उनके नग्न शव मिले थे।

 पीड़ितों के जातिगत अंतर और दोनों की हत्या के तरीके को देखते हुए पुलिस को जांच की शुरुआत में ऑनर किलिंग का मामला होने का संदेह था। हालाँकि, पुलिस द्वारा तांत्रिक को गिरफ्तार करने के बाद मामले का विवरण सामने आना शुरू हो गया और उसने दंपति की हत्या करने की बात कबूल कर ली।

मृतकों की पहचान 30 वर्षीय शिक्षक राहुल मीणा और 28 वर्षीय सोनू कुंवर के रूप में हुई है। पुलिस के मुताबिक राहुल और सोनू दोनों की शादी अलग-अलग लोगों से हो चुकी थी। यानी दोनों पहले से ही शादीशुदा थे।

दोनों की मुलाकात तांत्रिक के ही मंदिर में हुई थी। दोनों के परिवार के लोग अकसर इस तांत्रिक के पास अपनी पीड़ा लेकर आया करते थे। परिवार भादवी गुदाह में इच्छापूर्ण शेषनाग भावजी मंदिर में तांत्रिक के पास जाते थे और यहीं दोनों की मुलाकात हुई थी।  

जल्द ही दोनों के बीच संबंध बन गए, जिसकी वजह से राहुल का अपनी पत्नी से अक्सर झगड़ा होने लगा। इसके बाद उसकी पत्नी ने गिरफ्तार तांत्रिक भालेश कुमार से मदद मांगी।

पुलिस के मुताबिक भालेश पिछले सात आठ साल से यहां रह रहा है और लोगों के लिए ताबीज बनाता था। तांत्रिक खुद सोनू के करीब हो गया था, जिसके चलते उसने राहुल की पत्नी को राहुल और सोनू के अवैध संबंधों की जानकारी दी थी। 

जल्द ही राहुल को पता चला कि तांत्रिक ने उसकी पत्नी को उसके और सोनू के रिश्ते के बारे में बताया था। दोनों ने तांत्रिक को दुष्कर्म का झूठा केस दर्ज कर बदनाम करने की धमकी दी। इस डर से कि वह वर्षों से अपने लिए बनाई गई प्रतिष्ठा को खो सकता है, तांत्रिक ने उनसे बदला लेने के लिए एक साजिश रची।

 पुलिस ने बताया कि तांत्रिक ने गोंद की करीब 50 ट्यूब खरीदी और उन्हें एक बोतल में डाल दिया। 15 नवंबर की शाम को उसने राहुल और सोनू को जंगल के सुनसान इलाके में बुलाया और अपने सामने दोनों को सेक्स करने को कहा।

सेक्स करने के दौरान तांत्रिक ने कपल को मारा

पुलिस के मुताबिक जब दोनों हरकत में थे तो तांत्रिक ने उनके ऊपर फेवीक्विक की बोतल उड़ेल दी। पुलिस ने कहा कि तांत्रिक का मकसद दोनों को तब मारना था जब वे कृत्य में थे ताकि जब लोगों को उनके शव मिले तो वे आपत्तिजनक स्थिति में हों और वह आसानी से भाग निकले। 

पुलिस ने कहा कि तांत्रिक द्वारा उन पर फेवीक्विक डालने के बाद राहुल और सोनू काफी देर तक एक-दूसरे से चिपके रहे। दरअसल, पुलिस ने बताया कि एक-दूसरे से दूर होने की कोशिश में उनकी चमड़ी उखड़ने लगी। राहुल का प्राइवेट पार्ट उसके शरीर से अलग कर दिया गया और सोनू के प्राइवेट ऑर्गन में भी चोटें आईं।

पुलिस ने बताया कि इसी दौरान तांत्रिक ने राहुल और सोनू दोनों पर हमला कर दिया। उसने राहुल का गला रेत दिया और चाकू से गोदकर सोनू की हत्या कर दी। वारदात को अंजाम देने के बाद वह मौके से फरार हो गया। 

उदयपुर के पुलिस अधीक्षक (एसपी) विकास कुमार ने कहा कि पुलिस को शव मिलने के बाद, उन्होंने इलाके के आसपास लगे 50 सीसीटीवी कैमरों की फुटेज को स्कैन किया और पूछताछ के लिए लगभग 200 लोगों को हिरासत में लिया।

जांच के दौरान मिले सबूतों के आधार पर पुलिस को भालेश कुमार पर दंपति की मौत में भूमिका होने का संदेह था। उसे हिरासत में ले लिया गया और पूछताछ के दौरान उसने हत्या करना कबूल किया।

 पुलिस ने उसे अदालत में पेश किया, जहां से उसे तीन दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया गया। पुलिस को भालेश कुमार के फोन पर महिला से बात करने के सबूत मिले हैं और इस संबंध में उससे और पूछताछ की जाएगी। पुलिस मामले में प्रेम त्रिकोण के एंगल से भी जांच करेगी।

Horrible conspiracy of murder created by Tantrik, which will blow your senses

Horrible conspiracy of murder created by Tantrik, which will blow your senses

Horrible conspiracy of murder created by Tantrik, which will blow your senses

Horrible conspiracy of murder created by Tantrik, which will blow your senses

Horrible conspiracy of murder created by Tantrik, which will blow your senses