Rahul Gandhi in Kashmir: BJP ने जो सवाल उठाये हैं क्या कांग्रेस पार्टी उसका जवाब देगी?

 
Rahul Gandhi in Kashmir: Will the Congress party answer the questions raised by the BJP?
जम्मू-कश्मीर में चल रही भारत जोड़ो यात्रा पर निशाना साधने के लिए भाजपा के सभी बड़े नेता उतर चुके हैं। जम्मू में पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष रविंद्र रैना और केंद्रीय मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह ने कांग्रेस पर हमला बोला तो श्रीनगर में भाजपा प्रवक्ता अल्ताफ ठाकुर ने कांग्रेस को आड़े हाथ लिया।

Rahul Gandhi in Kashmir: जम्मू-कश्मीर में भारत जोड़ो यात्रा लेकर पहुँचे राहुल गांधी पर भाजपा ने जबरदस्त निशाना साधा है। भाजपा ने कहा है कि जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अनुच्छेद 370 को हटाया तो जम्मू-कश्मीर पूरी तरह देश के साथ जुड़ गया इसलिए यहां अब किसी प्रकार की जोड़ो यात्रा की जरूरत नहीं है।

भाजपा ने कहा है कि राहुल गांधी श्रीनगर के लाल चौक पर राष्ट्रीय ध्वज फहराने आ रहे हैं लेकिन उनसे यह पूछा जाना चाहिए कि आखिर क्यों उनकी पार्टी की सरकारों ने 70 साल तक कश्मीर को एक अलग ध्वज दिया हुआ था।

Rahul Gandhi in Kashmir: Will the Congress party answer the questions raised by the BJP?

जम्मू-कश्मीर में चल रही भारत जोड़ो यात्रा पर निशाना साधने के लिए भाजपा के सभी बड़े नेता उतर चुके हैं। जम्मू में पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष रविंद्र रैना और केंद्रीय मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह ने कांग्रेस पर हमला बोला तो श्रीनगर में भाजपा प्रवक्ता अल्ताफ ठाकुर और अन्य नेताओं ने कांग्रेस को आड़े हाथ लिया।

केंद्रीय मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह ने तो कांग्रेस पर कटाक्ष करते हुए यह भी कहा कि जहां-जहां से राहुल गांधी की यात्रा गुजर रही है उस प्रदेश में पार्टी के नेता कांग्रेस छोड़ते चले जा रहे हैं। वहीं श्रीनगर में भाजपा प्रवक्ता अल्ताफ ठाकुर ने कहा कि भारत जोड़ो यात्रा वास्तव में राजनीति में प्रासंगिक बने रहने का प्रयास है क्योंकि भारत जोड़ो 5 अगस्त 2019 को पूरा हो गया जब जम्मू-कश्मीर पूरी तरह से भारत के साथ मिल गया।

Rahul Gandhi in Kashmir: Will the Congress party answer the questions raised by the BJP?

ठाकुर ने कहा कि कांग्रेस को यह भी बताना चाहिए कि उसने क्यों आजादी के समय देश के विभाजन का फैसला मंजूर किया था। यदि वह फैसला मंजूर नहीं किया गया होता तो आज पाकिस्तान जैसा दुश्मन हमारे सामने नहीं होता। अल्ताफ ठाकुर ने पूछा कि जम्मू-कश्मीर के दौरे पर आये राहुल गांधी क्या अपने नाना पंडित नेहरू और दादी इंदिरा गांधी की भूलों के लिए माफी मांगेंगे?

हाथ से हाथ जोड़ो अभियान का लोगो जारी, बीजेपी सरकार के खिलाफ बनाई चार्जशीट

राहुल गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस पार्टी देशभर में भारत जोड़ो यात्रा निकाल रही है। हालांकि कांग्रेस यहीं नहीं रुकने वाली है और भारत जोड़ो यात्रा के दौरान ही पार्टी देशभर में 'हाथ से हाथ जोड़ो' अभियान की शुरुआत करेगी।

Rahul Gandhi in Kashmir: Will the Congress party answer the questions raised by the BJP?

कांग्रेस महासचिव केसी वेणुगोपाल ने शनिवार को दिल्ली में पार्टी के हाथ से हाथ जोड़ो अभियान का लोगो जारी किया। इसके साथ ही कांग्रेस ने केंद्र सरकार के खिलाफ एक चार्जशीट भी  जारी की है, जिसमें केंद्र सरकार की नीतियों की आलोचना की गई है। 



केसी वेणुगोपाल ने मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि 130 दिनों की ऐतिहासिक यात्रा (भारत जोड़ो यात्रा) के दौरान हमने बड़ी संख्या में देश के लोगों से बात की। राहुल गांधी ने भी यात्रा के दौरान कई लोगों से चर्चाएं की।

Rahul Gandhi in Kashmir: Will the Congress party answer the questions raised by the BJP?

इतने लोगों से बातचीत के बाद हम समझ सकते हैं कि लोग मोदी सरकार से परेशान हैं। हाथ से हाथ जोड़ो अभियान की शुरुआत 26 जनवरी से होगी। इस अभियान के तहत पार्टी कार्यकर्ता घर-घर जाकर लोगों से बात करेंगे और भारत जोड़ो यात्रा के संदेश को लोगों तक पहुंचाएंगे। 



कांग्रेस नेता ने कहा कि आज हमने मोदी सरकार के खिलाफ एक चार्जशीट भी जारी की है। साथ ही राज्यों की प्रदेश कांग्रेस कमेटी भी अपनी-अपनी राज्य सरकारों के खिलाफ भी चार्जशीट बनाएंगी। हाथ से हाथ जोड़ो अभियान के तहत कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ता और पदाधिकारी अपने अपने क्षेत्र के मतदाताओं के घर जाएंगे और उन्हें कांग्रेस की विचारधारा के बारे में बताएंगे।

Rahul Gandhi in Kashmir: Will the Congress party answer the questions raised by the BJP?

भारत जोड़ो यात्रा के दौरान जो संदेश दिया गया, उस संदेश को घर-घर पहुंचाया जाएगा। इस दौरान राहुल गांधी का एक पत्र लोगों को सौंपा जाएगा। साथ ही केंद्र सरकार की खामियां बताने वाली एक चार्जशीट भी बांटी जाएगी। इस अभियान के तहत कांग्रेस पार्टी का लक्ष्य 26 जनवरी से लेकर 26 मार्च तक देश की ढाई लाख ग्राम पंचायतों, 6 लाख गांवों तक पहुंचने का है। 



बता दें कि 7 सितंबर को तमिलनाडु के कन्याकुमारी से शुरू हुई राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा 30 जनवरी को जम्मू कश्मीर के श्रीनगर में राष्ट्रीय ध्वज फहराने के साथ समाप्त होगी। तमिलनाडु, केरल, कर्नाटक, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, राजस्थान, दिल्ली, उत्तर प्रदेश और हरियाणा, पंजाब, हिमाचल प्रदेश होते हुए भारत जोड़ो यात्रा फिलहाल जम्मू कश्मीर पहुंच चुकी है। 

Rahul Gandhi in Kashmir: Will the Congress party answer the questions raised by the BJP?