Amravati Central Jail Explosion : अमरावती सेंट्रल जेल के अंदर धमाका, मामले की जांच में जुटी पुलिस व जेल अधिकारी

 
Amravati Central Jail Explosion

Amravati Central Jail Blast : महाराष्ट्र में अमरावती सेंट्रल जेल के अंदर शनिवार देर रात धमाके से हड़कंप मच गया। अधिकारियों ने बताया कि जेल के बैरक 6 और 7 के सामने विस्फोटक फेंका गया था, जो बाद में फट गए। सौभाग्य से घटना में कोई हताहत नहीं हुआ है।

बताया जा रहा है कि किसी अज्ञात शख्स ने बीती रात जेल के बाहर से क्रिकेट की गेंद में बारूद भरकर फेंका और बाद में विस्फोट हो गया। घटना के बाद सीपी और डीसीपी समेत वरिष्ठ पुलिस अधिकारी बम निरोधक दस्ते के साथ घटनास्थल पर पहुंचे और छानबीन शुरू की।

Amravati Central Jail Explosion

वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि यह धमाका शनिवार रात करीब 8.30 बजे के करीब हुई। फॉरेंसिक टीम विस्फोटक में किस चीज का इस्तेमाल किया गया था, यह पता लगाने के लिए जांच कर रही है। अधिकारी फिलहाल सेंट्रल जेल के अंदर विस्फोटक फेंकने के पीछे के मकसद की जांच कर रहे हैं।

कई टीमें विस्फोटक फेंकने वाले का पता लगाने की कोशिश कर रही हैं। बता दें कि अमरावती सेंट्रल जेल महाराष्ट्र के अमरावती शहर से लगभग 5 किमी दूर स्थित है। 25 एकड़ के क्षेत्र में फैली यह जेल 1863 में बनाई गई थी और यह सबसे पुरानी जेलों में से एक है। 

Amravati Central Jail Explosion

अमरावती सेंट्रल जेल में एक विस्फोट हुआ। इस विस्फोट में कोई घायल नहीं हुआ। घटना की जांच जेल अधिकारियों और पुलिस द्वारा की जा रही है। बताया जा रहा है कि बैरक नंबर छह और सात के बाहर देसी बम से यह धमाके हुए। इस घटना के बाद जेल परिसर में हड़कंप मच गया।

घटना की सूचना मिलते ही जेल के अधिकारियों और अमरावती के पुलिस आयुक्त और डीसीपी सहित बम निरोधक दस्ता घटनास्थल पर पहुंचे। घटना की जांच के लिए फौरन ही फॉरेंसिक टीम को बुलाया गया। अमरावती के पुलिस आयुक्त नवीन चंद्र रेड्डी ने बताया कि शुरुआती जांच में यह बात सामने आई है कि किसी बॉल के माध्यम से पटाखा या बम पड़ोस के हाईवे की पुलिया के ऊपर से फेंका गया है।

Amravati Central Jail Explosion

फेंकने वाला शख्स कौन है और इसके पीछे का कारण क्या है। इसकी फिलहाल जांच जारी है। पुलिस आयुक्त नवीन चंद्र रेड्डी ने बताया कि पहले जिस तरह गेंद में गांजा पाया जाता था। इसी तरह जिला जेल में प्लास्टिक की गेंद के आकार की बम जैसी वस्तु मिलने की खबर है। 

उन्होंने यह भी बताया कि जेल के अंदर प्लास्टिक की गेंद में दो पटाखे जैसी वस्तुएं फेंकी गई थीं। एक पटाखा देर रात फूटा था। पुलिस फिलहाल इस बात की जांच करने में जुटी है कि अमरावती सेंट्रल जेल के अंदर बम जैसी वस्तु फेंकने के पीछे आखिर क्या वजह है। इसके लिए पुलिस अधिकारी भी जांच में जुट गए हैं। 

Amravati Central Jail Explosion

पुलिस का कहना है कि विस्फोटक के लिए किस चीज का इस्तेमाल किया गया, यह जानने के लिए फॉरेंसिक टीम भी जांच कर रही है। अब जांच के बाद ही तय हो पाएगा कि विस्फोटक फेंकने वाले ने किस मटेरियल का इस्तेमाल किया है।