Delhi Murder Case: महज 350 रुपये लूटने के लिए 16 साल के हत्यारे ने कर दी 17 साल के किशोर की बेरहमी से हत्या

 
Delhi Murder Case
चश्मदीद ने बताया कि वारदात के समय आरोपी हंसता हुआ नाच रहा था। कोई उसकी तरह बढ़ता तो वह चाकू लेकर उसे दौड़ा रहा था। हत्याकांड के बाद आरोपी वहां से बड़े ही आराम से चला गया। 

Delhi Murder Case: दिल्ली के वेलकम इलाके में हुए सनसनीखेज हत्याकांड सीसीटीवी फुटेज जिसने देखा उसके रोंगटे खड़े हो गए। घटना के बाद से वेलकम जनता कॉलोनी के लोग भी बुरी तरह दहशत में हैं। घटनास्थल की संकरी गली में सन्नाटा पसरा है। गुरुवार को मीडिया के वहां पहुंचने पर ज्यादातर लोगों ने अपने-अपने घरों के दरवाजे बंद ही रखे।

बड़ी मुश्किल से एक महिला ने बताया कि वारदात के समय आरोपी हंसता हुआ नाच रहा था। कोई उसकी तरह बढ़ता तो वह चाकू लेकर उसे दौड़ा रहा था। हत्याकांड के बाद आरोपी वहां से बड़े ही आराम से चला गया। नाबालिग नारंगी रंग के चाकू को लहरा-लहराकर लोगों को ललकार भी रहा था।

Delhi Murder Case

सूचना मिलने के बाद पुलिस वहां पहुंची और औपचारिकताएं पूरी करने के बाद यूसुफ का शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा। बाद में आरोपी को पकड़ा गया। पुलिस ने आरोपी को बुधवार ही जेजे बोर्ड में पेश कर दिया था। यहां उसे बाल सुधार गृह भेज दिया गया है।

मामले की जांच कर रहे पुलिस अधिकारी ने बताया कि नाबालिग के चेहरे पर हत्याकांड के बाद जरा भी डर या पछतावा नहीं था, बल्कि वह यही कहे जा रहा था कि कुछ दिन बाद दोबारा बाहर आ जाएगा। वेलकम इलाके में मंगलवार रात महज 350 रुपये लूटने के लिए 16 साल के किशोर ने 17 साल के किशोर की बेरहमी से हत्या कर दी थी।

Delhi Murder Case

हत्याकांड का दिल दहला देने वाला सीसीटीवी फुटेज सामने आया है। लूट का विरोध करने पर आरोपी ने पहले गला दबाया, फिर चाकू से ताबड़तोड़ वार कर दिए। खून से लथपथ किशोर को नजदीकी अस्पताल ले जाया गया जहां उसे मृत घोषित कर दिया था। बुधवार को काफी प्रयासों के बाद मृतक की शिनाख्त जाफराबाद निवासी यूसुफ (17) के रूप में हुई थी। 

बुधवार को पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद उसका शव परिजनों के हवाले कर दिया। छानबीन के बाद मंगलवार रात को ही पुलिस ने आरोपी किशोर को दबोच लिया था। उसके पास से वारदात में इस्तेमाल चाकू भी बरामद कर लिया गया था। पुलिस के मुताबिक, यूसुफ परिवार के साथ गली नंबर-27, जाफराबाद में रहता था।

Delhi Murder Case

परिवार में माता-पिता व अन्य सदस्य हैं। यूसुफ भाई के साथ वेलकम में कपड़ों पर कढ़ाई का काम करता था। मंगलवार रात को वह किसी काम से जाने की बात कहकर घर से निकला था। इस बीच वह गली नंबर-18, ईदगाह रोड, वेलकम पहुंचा था। यहां नशे में धुत आरोपी ने यूसुफ को घेर लिया था।

आरोपी जबरन उसकी जेब में रखे 350 रुपये निकालने लगा था। विरोध करने पर आरोपी ने गला दबा दिया। जैसे ही यूसुफ नीचे गिरा तो आरोपी ने चाकू से ताबड़तोड़ वार कर दिए थे। नाबालिग आरोपी अपने जीजा से काफी प्रभावित है। जीजा वेलकम थाने का घोषित बदमाश है। उसके खिलाफ एक दर्जन से ज्यादा मामले दर्ज हैं।

Delhi Murder Case

नाबालिग को शराब के अलावा दूसरे नशों की लत है। नशे की लत पूरी करने के लिए वह इलाके के लोगों से अक्सर पैसे छीन लेता है। विरोध करने पर आरोपी चाकू मारने से भी गुरेज नहीं करता था। स्थानीय लोग आरोपी के मिजाज से अच्छी तरह वाकिफ हैं। रुपये मांगने के दौरान लोग जल्द से उसे मना भी नहीं करते। मंगलवार को आरोपी बुरी तरह नशे में धुत था।

यूसुफ किसी काम से वहां पहुंचा तो आरोपी ने लूट का विरोध करने पर उसकी हत्या कर दी। मामले की जांच कर रहे पुलिस अधिकारी ने बताया कि आरोपी के पिता की काफी समय पहले मौत हो चुकी है। परिवार में मां के अलावा दो बहनें हैं। एक बहन की शादी हो चुकी है।

Delhi Murder Case

वेलकम में आरोपी के परिवार के एक करीबी ने बताया कि नाबालिग जरूरत से ज्यादा गुस्से वाला है। छोटी-छोटी बातों पर लड़ने के लिए तैयार रहता है। मां और बहन भी उसके गुस्से से परेशान हैं। आरोपी हमेशा ही अपने पास कोई न कोई हथियार रखता है। हत्या के बाद उससे बरामद चाकू मीट काटने में इस्तेमाल किया जाता था।

Delhi Murder Case