Gangster Lawrence Bishnoi: लॉरेंस बिश्नोई के गुर्गों के पासपोर्ट मामले में निगम ने झाड़ा पल्ला, बोले अफसर - SP देहात को सौंपी गई थी जांच

 
Gangster Lawrence Bishnoi
गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई के गुर्गों के पासपोर्ट बनवाए जाने के मामले में नगर निगम ने पल्ला झाड़ लिया है। एसएसपी ने इस मामले की जांच एसपी देहात को सौंपी थी।

Gangster Lawrence Bishnoi: गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई के गुर्गों के फर्जी दस्तावेजों पर पासपोर्ट बनवाए जाने के मामले में मेरठ में नगर निगम के अधिकारियों ने पल्ला झाड़ लिया है। एसपी देहात को बताया है कि उनके यहां से जन्म प्रमाण पत्र नहीं बनवाया गया। उन्होंने खुद ही फर्जी तरह से प्रमाण पत्र बनवाए होंगे।

Gangster Lawrence Bishnoi

जांच में ये भी सामने आया है कि सिपाही ने दरोगा को बिना कागजात दिए ही खुद रिपोर्ट लगा दी थी। शुक्रवार को वे अपनी जांच रिपोर्ट एसएसपी को सौंप देंगे। राजस्थान के श्रीडूंगरगढ़ मोमासर बास निवासी व्यापारी जुगल तावणिया से चार अप्रैल को मोबाइल पर पांच करोड़ की रंगदारी मांगी गई थी।

Gangster Lawrence Bishnoi

रंगदारी गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई गैंग के बदमाश रोहित गोदारा ने मांगी थी। रंगदारी वसूलने के लिए रोहित ने राहुल कुमार पुत्र चेतन लाल और महेंद्र कुमार पुत्र खजोहर लाल निवासी फतेहपुर बीकानेर को कहा था। पुलिस ने दोनों की गिरफ्तारी को दबिश दी तो सामने आया कि वे मेरठ से फर्जी दस्तावेजों पर पासपोर्ट बनवाकर दुबई भाग गए हैं।

Gangster Lawrence Bishnoi

राजस्थान पुलिस ने जांच की तो सामने आया कि दोनों बदमाशों के पासपोर्ट कंकरखेड़ा के सुभाषपुरी निवासी राजू वैद्य ने बनवाए थे। उसने कंकरखेड़ा के श्रद्धापुरी में फर्जी पते पर पासपोर्ट तैयार कराए। मेरठ नगर निगम का जन्म प्रमाण पत्र बनवाया गया।

Gangster Lawrence Bishnoi

जन्म प्रमाण पत्र के आधार पर दोनों के फर्जी आधार कार्ड तैयार कराए गए। आधार कार्ड से फर्जी नामों से बैंक में भी खाते खुलवा लिए। इसके बाद राजू वैद्य ने गाजियाबाद पासपोर्ट ऑफिस से तत्काल में दोनों के पासपोर्ट का आवेदन किया।

Gangster Lawrence Bishnoi

कंकरखेड़ा थाने के सिपाही ने बिना जांच करे ही दरोगा से हस्ताक्षर कराकर उनकी आइडी से ही कागजात भेज दिए। लखनऊ से रिपोर्ट पहुंचने पर पासपोर्ट कार्यालय से तत्काल में दोनों के पासपोर्ट जारी कर दिए। दोनों बदमाश राहुल और महेंद्र पासपोर्ट मिलते ही दुबई फरार हो गए।

Gangster Lawrence Bishnoi

इस मामले में बीकानेर के फतेहपुर थाने में राजू वैद्य को नामजद करते हुए कंकरखेड़ा पुलिस और नगर निगम को भी आरोपी बनाया था। एसएसपी रोहित सिंह सजवाण ने पासपोर्ट बनाए जाने के मामले में एसपी देहात कमलेश बहादुर को रिपोर्ट सौंपी थी। 

Gangster Lawrence Bishnoi

एसपी देहात ने बताया कि उनकी जांच में सामने आया कि कंकरखेड़ा थाने के एक सिपाही ने दरोगा को पासपोर्ट की जांच के लिए कागजात दिए बिना ही रिपोर्ट लगा दी। जांच में उसकी लापरवाही मिली है, शुक्रवार को वह रिपोर्ट सौंप देंगे। 

Gangster Lawrence Bishnoi

एकतरफ नगर निगम के अधिकारियों ने कह दिया है कि यहां से दोनों का प्रमाणपत्र नहीं बनवाया गया। जबकि राजू वैद्य ने बीकानेर पुलिस को बताया था कि उसने घूस देकर नगर निगम के कर्मचारियों से प्रमाण पत्र बनवाए थे। ऐसे में किसकी बात सही है, ये किसी की समझ में नहीं आ रहा है।