Varanasi : पश्चिमी देशों से वीजा मिलने में देरी का समाधान जल्द, काशी में बोले जयशंकर

 
Varanasi: Solution to delay in getting visa from western countries soon, Jaishankar said in Kashi
इस कारण अमेरिका सहित अन्य देशों का वीजा समय से नहीं मिल पा रहा है। भारत में अमेरिका के राजदूत से बात की गई है। राजदूत ने समस्या के जल्द समाधान का भरोसा दिलाया है।

Varanasi : देश के विदेश मंत्री डॉ एस जयशंकर ने कहा कि कोरोना महामारी के दौरान पश्चिमी देशों ने कर्मचारियों की संख्या कम कर दी। इस कारण अमेरिका सहित अन्य देशों का वीजा समय से नहीं मिल पा रहा है। भारत में अमेरिका के राजदूत से बात की गई है।

राजदूत ने समस्या के जल्द समाधान का भरोसा दिलाया है। भारत की तरफ से वीजा प्रक्रिया सरल करने के सुझाव भी दिए गए हैं। भारत में विदेशी मेहमानों के लिए वीजा की प्रक्रिया छोटी कराई जा रही है, ताकि पर्यटक यहां आएं और इसका लाभ देश की अर्थव्यवस्था को मिले।

Varanasi: Solution to delay in getting visa from western countries soon, Jaishankar said in Kashi

जी-20 देशों के विकास मंत्रियों के सम्मेलन की अध्यक्षता करने चार दिवसीय दौरे पर आए जयशंकर ने काशी विद्यापीठ में अमर उजाला संवाददाता से अनौपचारिक बात की। उन्होंने कहा कि विदेशों में यह बात सही है कि पूरे देश के निर्यातकों के लिए एक जैसे नियम से बंदरगाह से दूर शहरों के व्यापारियों की लागत बढ़ी है। मंत्री समूह की बैठक में इस मुद्दे को रखकर इसके समाधान का प्रयास कराया जाएगा। 

विदेशमंत्री डॉ. एस जयशंकर ने कहा कि पड़ोसी देशों से हमारे रिश्ते अच्छे हुए हैं। नेपाल से हमारा संबंध ही रोटी-बेटी का है। यहां सीमाएं खुली हुई हैं। अगर इस पर दीवार लगाई जाएगी तो इसका गलत संदेश जाएगा।

Varanasi: Solution to delay in getting visa from western countries soon, Jaishankar said in Kashi

शिक्षा व चिकित्सा क्षेत्र में दूसरे देशों के सहयोग के विषय पर कहा कि दुनिया में भारत की स्थिति अद्वितीय है। विकसित देशों में फार्मा उद्योग बहुत अलग है और उन्होंने महामारी के समय भी किसी की मदद नहीं की थी। मगर, भारत ने चिकित्सा क्षेत्र में भी दुनिया को अपना कायल बनाया।

Varanasi: Solution to delay in getting visa from western countries soon, Jaishankar said in Kashi

बहरीन व फ्रांस में मंदिर निर्माण की अनुमति : विदेशमंत्री ने कहा कि विदेशों में भी हिंदू मंदिरों का कायाकल्प किया जा रहा है। आबूधाबी में बन रहा मंदिर इस साल के अंत में पूरा हो जाएगा। बहरीन और फ्रांस में मंदिर निर्माण की अनुमति मिल गई है। न्यूयार्क में भी मंदिर निर्माण के प्रयास जारी हैं। हमारा प्रयास है कि विदेशों में स्थित पुराने मंदिरों का जीर्णोद्धार किया जाए।

विदेश मंत्री एस जयशंकर ने रविवार को कहा कि जब भी कोई संकट हो, हम अपने देश पर भरोसा कर सकते हैं। उन्होंने यह बात गांधी अध्ययन पीठ सभागार में भारतीय विदेश नीति के उद्देश्यों और विशेषताओं पर एक संगोष्ठी में कही। विदेश मंत्री ने कहा, मैं ऐसे मौके पर आया हूं जब मोदी सरकार के नौ साल पूरे हुए हैं। जी-20 सम्मेलन करीब 60 शहरों में हो रहे हैं। यहां विकास मंत्रियों की बैठक हो रही है। 

Varanasi: Solution to delay in getting visa from western countries soon, Jaishankar said in Kashi

भारत के बचाव प्रयासों का जिक्र करते उन्होंने कहा कि आपको याद होगा कि यूक्रेन में फंसे भारतीयों को वापस लाया गया था। सूडान में निवासियों को भी ‘ऑपरेशन कावेरी’ के जरिए वापस लाया गया था। 90 उड़ानों से यूक्रेन से देशवासियों को लाया गया था। नेपाल में भूकंप आया, फिर म्यांमार में तूफान आया। हमने हर जगह मदद पहुंचाई। 

Varanasi: Solution to delay in getting visa from western countries soon, Jaishankar said in Kashi

विदेश मंत्री एस जयशंकर ने रविवार को व्यापार एवं विकास पर संयुक्त राष्ट्र संगठन (अंकटाड) की महासचिव रेबेका ग्रीनस्पैन से मुलाकात की। दोनों नेताओं ने वैश्विक दक्षिण की चिंताओं को दूर करने में जी-20 की महत्वपूर्ण भूमिका पर सहमति जताई। दोनों नेता एसडीजी लक्ष्यों की प्रगति सुनिश्चित करने के लिए मिलकर काम करने पर भी सहमत हुए।