कीव को रूस के मिसाइल हमलों से अब बचाएगा जर्मनी का एयर डिफेंस सिस्‍टम

 
Germany's air defense system will now protect Kyiv from Russian missile attacks

रूस के यूक्रेन की राजधानी कीव में हुए हवाई हमलों को देखते हुए जर्मनी ने बड़ा फैसला लिया है। जर्मनी अब यूक्रेन को हाईटेक एयर डिफेंस सिस्‍टम देगा। पहले ये सिस्‍टम इस वर्ष के अंत तक दिया जाना था।

यूक्रेन पर रूस के हमलों को देखते हुए जर्मनी ने कीव को एयर डिफेंस सिस्‍टम देने की घोषणा की है। जर्मनी ने ये घोषणा सोमवार और मंगलवार को कीव समेत इसके करीबी शहरों पर हुए मिसाइल हमलों के बाद की है।

जर्मनी ने कहा है कि कुछ दिनों में वो यूक्रेन को हाईटेक एयर डिफेंस सिस्‍टम सौंप देगा। जर्मनी की रक्षा मंत्री Christine Lambrecht का कहना है कि रूस ने सोमवार को यूक्रेन के पापुलेशन सेंटर पर मिसाइलों से हमला किया है, जिसमें कई नागरिकों की जान गई है ।

Germany's air defense system will now protect Kyiv from Russian missile attacks

इसके बाद ही यूक्रेन और उसके नागरिकों की सुरक्षा को देखते हुए ये फैसला लिया गया है।

जर्मनी जिस एयर डिफेंस सिस्‍टम को यूक्रेन को देने की बात कर रहा है वो कीव को मिसाइल हमलों बचाने में पूरी तरह से सक्षम है। इस सिस्‍टम को लेकर यूक्रेन और जर्मनी में पहले भी बात हुई थी लेकिन उस वक्‍त इस वर्ष के अंत तक इसको देने की बात कही गई थी।

लेकिन अब कीव पर हुए हमलों की वजह से जर्मनी ने इसको सौंपने में तेजी दिखाने का फैसला लिया है। Lambrecht ने ये भी कहा है कि जर्मनी जल्‍द ही यूक्रेन को Iris T SLM सिस्‍टम की भी डिलीवरी देगा।

Germany's air defense system will now protect Kyiv from Russian missile attacks

उन्‍होंने कहा है कि यूक्रेन की राजधानी कीव को बचाना बेहद जरूरी है। इसलिए एयर डिफेंस स‍िस्‍टम को जल्‍द देना भी जरूरी हो गया है।  

जर्मनी की रक्षा मंत्री का कहना है कि रूस के कीव पर हुए हमले से लोग गहरे सदमे में हैं। रूस सीधेतौर पर नागरिकों के रिहाईशी इलाकों को टार्गेट कर हमला कर रहा है।

उन्‍होंने ये भी कहा है कि पहले चार एयर डिफेंस सिस्‍टम की खेप पूरी तरह से तैयार है। कुछ ही दिनों में इन्‍हें यूक्रेन को सौंप दिया जाएगा।

Germany's air defense system will now protect Kyiv from Russian missile attacks

गौरतलब है कि जून में जर्मनी के चांसलर ओलाफ स्‍कोल्‍ज ने यूक्रेन को एयर डिफेंस सिस्‍टम देने की घोषणा की थी।

ये मिसाइल सिस्‍टम 20 किमी की ऊंचाई पर जाकर करीब 40 किमी की दूरी में सटीक निशाना लगाने में सक्षम है। चांसलर ओलाफ का कहना है कि इस सिस्‍टम से यूक्रेन के बड़े शहर पूरी तरह से सुरक्षित हो सकेंगे।

जर्मनी के विदेश मंत्री ने भी यूक्रेन की हर संभव मदद करने का वादा किया है। उन्‍होंने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर लिखा है कि यूक्रेन की सुरक्षा के लिए जो उनसे बन पड़ेगा वो करेंगे।