Nepal News: भारत के साथ नेपाल का संबंध बेटी-रोटी का

जनकपुर जानकी मंदिर के महंत ने भारत सरकार के प्रति जताया आभार

 
Nepal News: Nepal's relationship with India is of daughter-bread
जानकी मंदिर जनकपुर धाम के महंत राम तपेश्वर दास वैष्णव ने कहा कि भारत और नेपाल का संबंध अटूट हैं। भारत के साथ नेपाल का संबंध बेटी - रोटी का हैं। यह संबंध सदियों पुराना है। भारत शरीर और नेपाल प्राण हैं।

Nepal News: जानकी मंदिर जनकपुर धाम के महंत राम तपेश्वर दास वैष्णव ने कहा कि भारत और नेपाल का संबंध अटूट हैं। भारत के साथ नेपाल का संबंध बेटी - रोटी का हैं। यह संबंध सदियों पुराना है। भारत शरीर और नेपाल प्राण हैं।

महंत शनिवार की रात काली गंडकी से जनकपुर पहुंचे। इस दौरान शालिग्राम शिलायात्रा के मंदिर परिसर में स्वागत करने के बाद दैनिक जागरण के साथ बातचीत की। उन्होंने कहा कि यह संबंध और अधिक मजबूत होगा। महंत ने भारत सरकार और श्रीरामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र अयोध्या के प्रति आभार जताया। जिन्होंने अयोध्या में प्रभु श्रीराम की मूर्ति के निर्माण के लिए शालिग्राम पत्थर देने की जिम्मेदारी सौंपी।

Nepal News: Nepal's relationship with India is of daughter-bread

उन्होंने आगे कहा कि नेपाल की सरकार ने उक्त पत्थर जनकपुर धाम मंदिर को सौंपी। जिसे लेकर वह अयोध्या जा रहे हैं।

महंत ने कहा कि हम त्रेता युग की पुनरावृति एक बार फिर से कर रहे हैं। यह वक्त प्रभु श्रीराम को याद करने और उत्सव मनाने का हैं। उन्होंने कहा कि हम भगवान श्रीराम को दामाद के रुप में पूजते हैं।

Nepal News: Nepal's relationship with India is of daughter-bread

उन्होंने आगे कहा कि भारत के प्रधानमंत्री मोदी जब जनकपुर आए थे तो महंत जी ने पूछा था कि आप जनकपुर को किस रूप में देखते हैं। जबाव में पीएम मोदी ने कहा था वह अपने ननिहाल में आए हैं। इसके पूर्व काली गंडकी से सैकड़ों किमी की यात्रा तय कर शालिग्राम शिलायात्रा रात पौने 12 बजे जनकपुर धाम मंदिर में पहुंचीं। जहां शिलायात्रा में शामिल लोगों का परंपरागत तरीके से स्वागत किया गया। 

Nepal News: Nepal's relationship with India is of daughter-bread

Trump ने 2024 के राष्ट्रपति चुनाव के लिए प्रचार शुरू किया, कहा-अब ‘और कटिबद्ध हूं’

Nepal News: Nepal's relationship with India is of daughter-bread

अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने 2024 में होने वाले राष्ट्रपति चुनाव के लिए अपना प्रचार अभियान शनिवार को शुरू कर दिया। दो महीने से अधिक समय पहले उन्होंने तीसरी बार राष्ट्रपति चुनाव में किस्मत आजमाने की घोषणा की थी।

सालेम के न्यू हैंपशायर में रिपब्लिकन पार्टी की सालाना बैठक में ट्रंप ने पार्टी नेताओं से कहा, ‘‘राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार के तौर पर हम यहां से अपने अभियान की शुरुआत कर रहे हैं।’’ ट्रंप कोलंबिया जाने से पहले सालेम में रुके थे। उन्हें सालेम में रिपब्लिकन पार्टी के नेताओं को दक्षिण कैरोलाइना की अपनी प्रचार टीम से वाकिफ कराना था।

Nepal News: Nepal's relationship with India is of daughter-bread

ट्रंप ने कहा, ‘‘मैं अब और नाराज हूं और पहले की तुलना में (राष्ट्रपित चुनाव के लिए) अधिक कटिबद्ध हूं।’’ ट्रंप और उनके सहयोगियों को आस है कि प्रत्याशी चयन को लेकर अधिक शक्तिशाली प्रांतों में चल रही घटनाएं पूर्व राष्ट्रपति के पीछे की ताकत को प्रदर्शित करेंगी, क्योंकि उनके अभियान की ढीली शुरुआत से राष्ट्रपति पद के चुनाव में उतरने की उनकी कटिबद्धता पर कई लोग सवाल उठाने लगे हैं।

Nepal News: Nepal's relationship with India is of daughter-bread

अभी सिर्फ ट्रंप ने ही 2024 के राष्ट्रपति चुनाव की उम्मीदवारी के लिए अपनी दावेदारी घोषित की है। फ्लोरिडा के गवर्नर आर डेसैंट्स, पूर्व उपराष्ट्रपति माइक पेंस, दक्षिण कैरोलाइना की पूर्व गवर्नर निक्की हैली समेत कई संभावित उम्मीदवारों द्वारा आगामी महीनों में अपना चुनाव प्रचार अभियान शुरू करने की उम्मीद है।

इस बीच, ट्रंप ने कहा कि मेम्फिस पुलिस के पांच अधिकारियों द्वारा अश्वेत नागरिक टायर निकोल्स की नृशंस पिटाई का जो वीडियो सामने आया है, वह ‘भयावह’ है और यह हमला ‘कभी होना ही नहीं चाहिए था।’ ट्रंप ने शनिवार को एसोसिएटेड प्रेस के साथ एक साक्षात्कार में कहा, ‘‘मेरा मानना है कि यह भयावह है।

Nepal News: Nepal's relationship with India is of daughter-bread

वह बड़ी मुश्किल में था। उस पर लात घूसे बरसाए जा रहे थे।’’ बाइडन प्रशासन ने 29 वर्षीय अश्वेत निकोल्स पर किए गए हमले का वीडियो जारी किया था। इस हमले के तीन दिन बाद उसकी मौत हो गई थी। हालांकि, वर्ष 2020 में ट्रंप के राष्ट्रपति कार्यकाल के दौरान जॉर्ज फ्लायड नामक एक अश्वेत व्यक्ति की पुलिस की कार्रवाई में मौत हो जाने के बाद अमेरिका में नस्ली हिंसा के खिलााफ बड़े पैमाने पर प्रदर्शन हुए थे।