Imran Khan: इमरान की गिरफ्तारी को हाईकोर्ट ने बताया सही, समर्थकों का सेना मुख्यालय में तोड़फोड़

 
Imran Khan: The High Court justified the arrest of Imran, supporters vandalized the army headquarters

Imran Khan Arrested News : पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान को गिरफ्तार कर लिया गया है। बताया गया है कि उन्हें पाक रेंजर्स ने गिरफ्तार किया है। पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (PTI) के अध्यक्ष इमरान खान को इस्लामाबाद हाई कोर्ट के बाहर गिरफ्तार किया गया है। बताया जा रहा है कि कार्रवाई पाकिस्तान रेंजर्स की ओर से की गई है। इमरान जब अल-कादिर ट्रस्ट मामले में पेशी के लिए हाईकोर्ट पहुंचे, तभी उन्हें पाक रेंजर्स ने अपनी गिरफ्त में ले लिया।

कोर्ट ने खारिज की गिरफ्तारी को गैरकानूनी ठहराने से जुड़ी यचिका - इमरान खान की गिरफ्तारी को इस्लामाबाद हाईकोर्ट ने सही बताया। कोर्ट ने गिरफ्तारी को गैरकानूनी ठहराने से जुड़ी यचिका खारिज कर दी। इस्लामाबाद उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश आमिर फारूक ने फवाद चौधरी, सैफुल्ला नियाजी, फैसल चौधरी, नईम हैदर, अली बुखारी की गिरफ्तारी पर रोक लगाने का आदेश जारी किया। इसके साथ ही गृह सचिव और आईजी इस्लामाबाद को अवमानना नोटिस जारी किया।

Imran Khan: The High Court justified the arrest of Imran, supporters vandalized the army headquarters

गिरफ्तारी से कुछ घंटे पहले इमरान को कई मामलों में मिली थी जमानत - पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान को अर्द्धसैनिक बलों द्वारा इस्लामाबाद उच्च न्यायालय में गिरफ्तार किये जाने से कुछ घंटे पहले मंगलवार को एक आतंकवाद रोधी अदालत ने कई मामलों में उनकी अंतरिम जमानत अर्जी मंजूर कर ली थी। इमरान खान अभी देश भर में 121 मामलों का सामना कर रहे हैं, जिनमें राजद्रोह, आतंकवाद, ईशनिंदा और हिंसा भड़काने के आरोप शामिल हैं।

भारत ने बनाई पैनी नजर - भारतीय सुरक्षा बल पाकिस्तान के हालात पर वहां की गतिविधियों पर पैनी नजर रखे हुए हैं। नियंत्रण रेखा और अंतरराष्ट्रीय सीमा पर बलों की ओर से कड़ी निगरानी रखी जा रही है। रक्षा सूत्रों के हवाले से यह जानकारी दी गई।

पाक गृह मंत्री ने कही यह बात - पाकिस्तान के गृह मंत्री राणा सनाउल्लाह ने मंगलवार को कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान को भ्रष्टाचार के एक मामले में राष्ट्रीय खजाने को नुकसान पहुंचाने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। सनाउल्लाह ने कहा कि अल-कादिर ट्रस्ट मामले में एनएबी (राष्ट्रीय जवाबदेही ब्यूरो) ने उनकी गिरफ्तारी की है। गिरफ्तारी गुण-दोष के आधार पर की गई है और वह भ्रष्टाचार रोधी एजेंसी की हिरासत में हैं।

Imran Khan: The High Court justified the arrest of Imran, supporters vandalized the army headquarters

इमरान पर 140 से अधिक मामले दर्ज - इमरान की गिरफ्तारी के दौरान अदालत में मौजूद बैरिस्टर गौहर खान ने बताया कि पूर्व प्रधानमंत्री को प्रताड़ित किया गया। उन्होंने इमरान के सिर और पैर पर वार किया। गिरफ्तारी के दौरान उनकी व्हीलचेयर भी फेंक दी गई। इमरान खान वर्तमान में आतंकवाद, ईशनिंदा, हत्या, हिंसा, हिंसा के लिए उकसाने से संबंधित 140 से अधिक मामलों का सामना कर रहे हैं।

पूर्व मंत्री मजारी ने शहबाज सरकार को घेरा - पूर्व मंत्री मजारी ने कहा कि कौन सा कानून? न्यायालयों पर रेंजरों द्वारा हमला किया गया जैसे कि एक कब्जे वाली भूमि पर हमला कर रहे हों- वकीलों और उच्च न्यायालय के कर्मचारियों को भी पीटा गया। यह आज का पाकिस्तान है- एक फासीवादी देश है, जहां अर्धसैनिक बलों द्वारा उच्च न्यायालय पर हमला किया गया। पार्टी ने आरोप लगाया कि इमरान खान को प्रताड़ित किया जा रहा है, लेकिन स्वतंत्र रूप से इसकी पुष्टि नहीं हुई है।

इमरान रावलपिंडी में एनएबी कार्यालय स्थानांतरित - इमरान खान के समर्थकों ने उनकी गिरफ्तारी के खिलाफ विभिन्न शहरों में विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया है। पार्टी कार्यकर्ता कराची में पीटीआई के मुख्य कार्यालय इंसाफ हाउस, पेशावर और लाहौर में एकत्रित होने लगे हैं। रावलपिंडी और इस्लामाबाद की सड़कों पर भी कार्यकर्ताओं के देखे जाने की खबरें हैं। कहा जा रहा है कि हिंसक घटनाओं में चार बच्चों को चोटें आई हैं। ऐसा कहा गया कि इमरान खान को रावलपिंडी में एनएबी कार्यालय में स्थानांतरित कर दिया गया, जहां उनकी चिकित्सीय जांच की गई। हालांकि, पीटीआई नेता फवाद चौधरी ने दावा किया कि खान को अज्ञात स्थान पर स्थानांतरित कर दिया गया है।

Imran Khan: The High Court justified the arrest of Imran, supporters vandalized the army headquarters

कोर्ट ने सुरक्षित रखा फैसला - इस्लामाबाद हाईकोर्ट ने इमरान खान की गिरफ्तारी पर फैसला सुरक्षित रख लिया है। इससे पहले इस्लामाबाद उच्च न्यायालय ने इस्लामाबाद के पुलिस प्रमुख और अन्य को अदालत में पेश होने और यह बताने का आदेश दिया कि खान को अदालत से क्यों गिरफ्तार किया गया। उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश आमेर फारूक ने कहा कि वह संयम बरत रहे हैं और चेतावनी दी कि अगर इस्लामाबाद पुलिस प्रमुख अदालत में पेश नहीं हुए तो वह प्रधानमंत्री को समन करेंगे। न्यायमूर्ति फारुक ने कहा कि अदालत आकर हमें बताइए इमरान को क्यों और किस मामले में गिरफ्तार किया गया। इसके बाद इस्लामाबाद के पुलिस महानिरीक्षक पेश हुए और अदालत को बताया कि खान को एनएबी ने गिरफ्तार किया है और उनके गिरफ्तारी वारंट की एक प्रति भी पेश की।

पूरे पाकिस्तान में बवाल - रावलपिंडी में सेना के हेडक्वार्टर पर इमरान समर्थकों पर धावा बोल दिया। लाहौर आर्मी कैंट और कोर कमांडर के घर पर भी बवाल मचा हुआ है। कई जगह आंसू गैस के गोले का भी इस्तेमाल करना पड़ा है। पेशावर में भी पीटीआई समर्थकों का प्रदर्शन हिंसक हो चुका है।

Imran Khan: The High Court justified the arrest of Imran, supporters vandalized the army headquarters

बायोमेट्रिक प्रक्रिया के दौरान इमरान को गिरफ्तार किया - पार्टी की वरिष्ठ नेता शिरीन मजारी के अनुसार, लाहौर से संघीय राजधानी इस्लामाबाद आए पीटीआई प्रमुख खान अदालत में बायोमेट्रिक प्रक्रिया से गुजर रहे थे, तभी अर्धसैनिक बल के जवानों ने कांच की खिड़की को तोड़ दिया और वकीलों तथा खान के सुरक्षा कर्मचारियों की पिटाई करने के बाद उन्हें (खान को) गिरफ्तार कर लिया। इमरान खान की गिरफ्तारी के बाद इस्लामाबाद में धारा 144 लागू कर दी गई है, क्योंकि उनकी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने पूरे शहर में प्रदर्शन किया और दंगे जैसी स्थिति पैदा कर दी।

इस्लामाबाद में निषेधाज्ञा लागू - पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान को मंगलवार को अर्धसैनिक बलों द्वारा गिरफ्तार कर लिए जाने के बाद उनकी पार्टी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के कार्यकर्ताओं ने इस्लामाबाद में प्रदर्शन और हंगामा किया। इसके बाद पाकिस्तान पुलिस ने शहर में निषेधाज्ञा लागू कर दी। इस्लामाबाद पुलिस ने कहा कि देश की राजधानी में हिंसा की कोई घटना नहीं हुई है।

आईएसआई पर लगाए थे गंभीर आरोप - हाल ही में इमरान ने आईएसआई के अफसर फैसल नसीर पर आरोप लगाए थे कि वजीराबाद में उनकी हत्या की साजिश रची गई थी। पाकिस्तानी सेना ने इन आरोपों का खंडन किया था। इसके बाद सोमवार को ही इमरान ने एक वीडियो जारी कर फिर से आरोप दोहराए थे। इसके करीब चार घंटे बाद ही उन्हें अदालत से गिरफ्तार कर लिया गया।