जानिये क्यों लगा इंस्पेक्टर समेत 33 पुलिस कर्मियों पर जुर्माना

 
Know why 33 policemen including inspector were fined
Fatehpur सुरक्षित यातायात के लिए पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार सिंह ने बड़ी पहल की है। दो पहिया वाहन चलाते समय हेलमेट की अनिवार्यता आम खास सभी समझे इसके लिए गुरुवार को उन्होंने पुलिस विभाग पर ही चाबुक चलवाया।

फतेहपुर। सुरक्षित यातायात के लिए पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार सिंह ने बड़ी पहल की है। दो पहिया वाहन चलाते समय हेलमेट की अनिवार्यता आम, खास सभी समझे इसके लिए गुरुवार को उन्होंने पुलिस विभाग पर ही चाबुक चलवाया।

एसपी ने पुलिस को नियमों का पालन कर एक मिसाल कायम करने की सीख दी थी। इसी क्रम में सीओ यातायात प्रगति यादव के नेतृत्व में पुलिस ने पुलिस लाइन, पुलिस कार्यालय व थाना क्षेत्रों में औचक चेकिंग की गई।

Know why 33 policemen including inspector were fined

जिसमें बिना हेलमेट के बाइक सवार इंस्पेक्टर रवि गौतम, दो दारोगा, हेड कांस्टेबल, कांस्टेबल व होमगार्ड जवानों समेत 33 पुलिस कर्मियों पर चालान की कार्रवाई की गई। प्रत्येक पुलिस कर्मियों पर एक-एक हजार रुपये का जुर्माना किया गया। जिससे महकमा में खलबली मची रही।

बाइक से बिना हेलमेट पहुंचे पुलिस कर्मियों का चालान

सीओ के नेतृत्व में यातायात प्रभारी मनोज सिंह, दारोगा रविशंकर पांडेय, धर्मेंद्र कुमार, राजेश व अरविंद कुमार ने ड्यूटी के समय पुलिस लाइन व एसपी कार्यालय के बाहर पहुंचे। ड्यूटी में बाइक से बिना हेलमेट लगाकर आने वाले इंस्पेक्टर, दारोगा, कांस्टेबल व होमगार्डों समेत 14 पुलिस कर्मियों का चालान किया।

Know why 33 policemen including inspector were fined

नियमों का उल्लंघन करने वालों पर कार्रवाई

इसी तरह सदर कोतवाली, बिंदकी कोतवाली, खागा कोतवाली पुलिस के साथ अन्य थाना प्रभारियों ने नियमों का उल्लंघन करने वालों पर कार्रवाई की। सीओ यातायात प्रगति यादव ने बताया कि कार्रवाई के दायरे में एक इंस्पेक्टर, दो दारोगा, हेड कांस्टेबल पांच, कांस्टेबल 19, महिला आरक्षी दो, व चार होमगार्ड जवानों पर कुल 33 हजार रुपये जुर्माना किया गया।

Know why 33 policemen including inspector were fined

सीट बेल्ट न पहनने पर होगी कार्रवाई

यातायात प्रभारी मनोज सिंह ने बताया कि शपथ लेने के बावजूद नियमों का पालन न करने पर गुरुवार सुबह हेलमेट न पहनने पर पुलिस कर्मियों पर जुर्माना की कार्रवाई की गई है। अब औचक सीट बेल्ट की चेकिंग भी की जाएगी। यदि कार सवार पुलिस कर्मी बिना सीट बेल्ट के मिले तो पर भी जुर्माना की कार्रवाई कर वाहन का चालान किया जायेगा। नियम सभी के लिए बराबर है।

Know why 33 policemen including inspector were fined