Abhay & Dhananjay Singh: UP में लॉरेंस विश्नोई गैंग का सरगना है धनंजय सिंह : अभय सिंह

 
Abhay & Dhananjay Singh

Abhay & Dhananjay Singh: रविवार को अभय सिंह जौनपुर पहुंचे औऱ धनंजय सिंह पर कई गंभीर आरोप लगाए। यहां तक कहा कि धनंजय सिंह उनकी हत्या कराना चाहता है। अभय सिंह लाइन बाजार के महमदपुर सरायजागी (शिवापार) गांव में एक कार्यक्रम में हिस्सा लेने आए थे।

मीडिया से बात करते हुए अभय सिंह ने कहा कि कुख्यात लारेंस बिश्नोई ने पूछताछ में खुद कबूल किया है कि धनंजय सिंह यूपी में उसके गिरोह के सरगना हैं। गोसाईंगंज सीट से विधायक अभय सिंह रविवार को शहर से सटे शिवापार गांव में अपने रिश्तेदार के घर पहुंचे थे, उन्होंने धनंजय सिंह को उत्तर भारत का सबसे बड़ा डॉन बताया है।

Abhay & Dhananjay Singh

उन्होंने आरोप लगाया कि धनंजय सिंह की वजह से ही लॉरेंस बिश्नोई ने उनपर हमला कराया था। उन्होंने कहा कि धनंजय सिंह के खिलाफ 2018 में हाईकोर्ट ने टिप्पणी की थी। जिसमें कहा था ऐसे व्यक्ति का जेल से बाहर रहना ठीक नहीं है।

धनंजय को किसी तरह का खतरा नहीं है, बल्कि उससे लोगों को खतरा है। प्रोजेक्ट मैनेजर के अपहरण और रंगदारी मामले में जौनपुर की एमपी एमएलए कोर्ट ने धनंजय सिंह को 7 साल की सजा सुनाई है। उन्हें जौनपुर से बरेली जेल एक दिन पहले यानि शनिवार को भेजा गया था।

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने धनंजय की जमानत मंजूर कर ली है। वहीं शनिवार को धनंजय की पत्नी और जौनपुर लोकसभा सीट से बसपा की प्रत्याशी श्रीकला रेड्डी ने शनिवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर धनंजय सिंह के हत्या की आशंका जताई थी।

Abhay & Dhananjay Singh

उन्होंने कहा था मेरे पति पर हमला कराया जा सकता है। रविवार को अभय सिंह जब जौनपुर में अपने रिश्तेदार विनय सिंह के घर पहुंचे थे उस समय पत्रकारों ने उनसे धनंजय को लेकर सवाल पूछा। जिस पर उन्होंने धनंजय को उत्तर भारत का सबसे बड़ा डॉन बता दिया।

अभय सिंह ने कहा कि धनंजय सिंह लॉरेंस बिश्नोई गैंग से जुड़े हैं। उन्होंने कहा कि लॉरेंस ने एनआईए की पूछताछ में इस बात की पुष्टि भी की है। उन्होंने कहा कि लॉरेंस बिश्नोई ने कबूला है कि धनंजय सिंह उत्तर भारत में उसके लिए वसूली और रंगदारी का काम करता है।

अभय सिंह ने कहा कि धनंजय सिंह मुझे फर्जी मुकदमे में फंसाना चाहता है और मुझे मरवाना चाहता है। अभय ने कहा कि इंजीनियर हत्याकांड में धनंजय पर यूपी पुलिस ने 50 हजार का इनाम घोषित किया था। उस समय मेरे नाना जौनपुर सीट भाजपा के सांसद थे।

Abhay & Dhananjay Singh

बसपा की सरकार भाजपा के सहयोग से चल रही थी। धनंजय चाहते थे कि मेरे नाना उनकी मदद करें और मायावती से कहकर उनका बचाव कराएं। लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया। तभी से धनंजय सिंह मुझसे अदावत रखते हैं, मेरे परिवार रिश्तेदारों से भी नाराज रहते हैं।

अभय सिंह से जब पत्रकारों ने साल 2002 में धनंजय सिंह पर हुए हमले को लेकर सवाल पूछा तो उन्होंने कहा कि मुझपर लगाए गए आरोप झूठे हैं। कोर्ट में धनंजय पर AK 47 से हमले की पुष्टि आज तक नहीं हो पाई। इस मामले में मेरा नाम गलत लिया जाता है।

जबकि यह घटना है, उस समय में अयोध्या के सरकारी अस्पताल में भर्ती था मेरा इलाज चल रहा था। श्रीकला रेड्डी सभ्य महिला, उन्हे नही मालूम की कितनों का मंगलसूत्र और सिंदूर धनंजय सिंह तोड़ा है।धनंजय सिंह की पत्नी श्रीकला रेड्डी के उस आरोप पर भी अभय सिंह ने जवाब दिया जिसपर उन्होंने पति के हत्या किए जाने की आशंका जताई थी।

Abhay & Dhananjay Singh

कहा, कि वो सभ्य महिला हैं मैं उनकी इज्जत करता लेकिन उन्हें धनंजय के अतीत की जानकारी नहीं है। धनंजय सिंह के बारे में उन्हें जितना बताया गया है वो उतना ही जानती हैं।

Abhay & Dhananjay Singh