Anil Rajbhar Statement: अपनी विधानसभा नहीं बचा सके ओम प्रकाश राजभर : अनिल राजभर

 
Anil Rajbhar Statement
सुभासपा अध्यक्ष और योगी कैबिनेट के मंत्री ओम प्रकाश राजभर का वीडियो वायरल होने के बाद कैबिनेट मंत्री अनिल राजभर ने पलटवार किया है। 

Anil Rajbhar Statement: यूपी में लोकसभा चुनाव 2024 के परिणाम आने के बाद भाजपा की अंर्तकलह सामने आने लगी है। शुक्रवार को सुभासपा अध्यक्ष और योगी सरकार में कैबिनेट मंत्री बने ओम प्रकाश राजभर का सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो गया था।

इसमें ओम प्रकाश राजभर ने भाजपा के खिलाफ बयान दिया था। हालांकि बाद में उन्होंने इस वीडियो का खंडन करते हुए इसे फेक बताया था। अब शनिवार को वाराणसी पहुंचे कैबिनेट मंत्री अनिल राजभर ने इसपर पलटवार किया है। शनिवार को वाराणसी में अनिल ने ओपी राजभर को नसीहत दी।

Anil Rajbhar Statement

उन्होंने कहा कि उनके बेटे को जो वोट मिला है, वो बीजेपी का वोट है। ओपी से राजभर समाज के लोग क्यों दूर गए। इस पर ओपी राजभर को विचार करना चाहिए। उन्होंने आगे कहा कि ओपी राजभर खुद अपनी विधानसभा नहीं बचा सके। जहूराबाद से निर्दल प्रत्याशी लीलावती राजभर को 45 हजार वोट मिले।

एनडीए के प्रत्याशी वहां से 15 हजार वोटों से हर गए। सुर्खियों में बने रहने के लिए पार्टी के खिलाफ ऐसा बयान देना उचित नहीं है। कैबिनेट मंत्री अनिल राजभर ने कहा कि लोकसभा चुनाव 2024 के परिणाम निराशाजनक रहे। इसलिए ये वक्त ईमानदारी से हार की समीक्षा करने का है।

Anil Rajbhar Statement

ओपी राजभर को ऐसी भाषा नहीं बोलनी चाहिए, जो विरोधी बोल रहे हैं। आज पूरी दुनिया मोदी जी को तीसरी बार प्रधानमंत्री बनने पर बधाई दे रही है। एक दिन पहले रसड़ा के मीरनगंज स्थित कार्यालय पर हुई सुभासपा की समीक्षा बैठक में पार्टी सुप्रीमो और योगी सरकार के कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर के बयान का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया।

इसमें ओम प्रकाश राजभर घोसी लोकसभा चुनाव में मिली हार का ठीकरा मोदी और योगी सरकार पर फोड़ रहे थे। इसका वीडियो वायरल होते ही पार्टी पदाधिकारियों में हड़कंप मच गया। इसके कुछ समय बाद ही ओमप्रकाश राजभर ने एक वीडियो जारी कर इसका खंडन किया। उन्होंने ऐसे किसी बयान को सिरे से खारिज किया।

Anil Rajbhar Statement

सोशल मीडिया पर ओम प्रकाश राजभर का यह बयान वायरल हो गया। इसके बाद ओम प्रकाश राजभर ने इसे फर्जी बताते हुए इस मामले पर अपनी सफाई दी। ओम प्रकाश राजभर ने कहा “हमारी ऐसी कोई मंशा नहीं है। जो न्यूज सोशल मीडिया पर चल रही है। वो पूरी तरह विरोधियों की साजिश है।

हम माननीय नरेंद्र मोदी जी और माननीय योगी आदित्यनाथ जी के नेतृत्व में काम कर रहे हैं। हम एनडीए के गठबंधन में हैं। हम भाजपा सरकार की तमाम कल्याणकारी योजनाएं गांवों तक पहुंचाना चाहते हैं। इससे विरोधी परेशान हैं। इसलिए वे तरह-तरह के फर्जी वीडियो और न्यूज वायरल कर रहे हैं।

Anil Rajbhar Statement

हम अभी एनडीए गठबंधन में हैं और आगे भी एनडीए गठबंधन में रहेंगे। विरोधियों को ऐसा लग रहा है कि उन्होंने संविधान खत्म होने का ड्रामा किया, आरक्षण खत्म होने का ड्रामा किया, इसके बाद में भी उन्हें कोई लाभ नहीं मिला। इसलिए उनकी ओर से ऐसी साजिश रची जा रही है।”