Atiq Ashraf Murder: शूटर गुड्डू मुस्लिम पर नया खुलासा, जानिये इस बड़े राजनीतिक दल व सऊदी से क्या है बमबाज का कनेक्शन

 
Atiq Ashraf Murder: New disclosure on shooter Guddu Muslim, know what is the connection of the bomber with this big political party and Saudi
माफिया अतीक अहमद गिरोह के सबसे खतरनाक शूटर गुड्डू मुस्लिम को लेकर नया खुलासा हुआ है। गुड्डू एक बड़े राजनीतिक दल से भी जुड़ा बताया गया है। जांच में सामने आया है कि गुड्डू मुस्लिम के तीन रिश्तेदार सऊदी अरब में रहते हैं।

Atiq Ashraf Murder: उमेश पाल की हत्या के आरोपी और माफिया अतीक अहमद का करीबी शूटर गुड्डू मुस्लिम अभी तक पुलिस की गिरफ्त से दूर है। गुड्डू मुस्लिम को लेकर रोजाना नए-नए खुलासे हो रहे हैं। माफिया अतीक अहमद की पत्नी शाइस्ता भी अभी तक पुलिस के हाथ नहीं आई है। दोनों की तलाश में पुलिस की टीमें खाक छान रही हैं, लेकिन अभी तक पकड़ नहीं पाई है। 

Atiq Ashraf Murder: New disclosure on shooter Guddu Muslim, know what is the connection of the bomber with this big political party and Saudi

माफिया अतीक अहमद गिरोह के सबसे खतरनाक शूटर गुड्डू मुस्लिम के करीबी आशिक उर्फ मल्ली की एसटीएफ सरगर्मी से तलाश कर रही है। गुड्डू के फरार होने के बाद मल्ली भी प्रयागराज से गायब हो चुका है। वहीं, गुड्डू के आर्थिक मददगार नैनी निवासी मुकेश श्रीवास्तव की भी तलाश की जा रही है। 

Atiq Ashraf Murder: New disclosure on shooter Guddu Muslim, know what is the connection of the bomber with this big political party and Saudi

आशंका जताई जा रही है कि मल्ली और मुकेश कई दिनों से फरार पांच लाख के इनामी गुड्डू मुस्लिम की लगातार मदद कर रहे हैं। वहीं अतीक की पत्नी शाइस्ता को संरक्षण देने वालों में भी मल्ली का नाम एसटीएफ के दस्तावेजों में दर्ज हो चुका है।

Atiq Ashraf Murder: New disclosure on shooter Guddu Muslim, know what is the connection of the bomber with this big political party and Saudi

पुलिस रिकॉर्ड के मुताबिक प्रयागराज के धूमनगंज का रहने वाला आसिफ उर्फ मल्ली माफिया अतीक अहमद के साथ लंबे समय से जुड़ा है और उसके हर अपराध में भागीदार रहा है। तीन वर्ष पूर्व प्रयागराज पुलिस ने मल्ली और अरमान (उमेश पाल हत्याकांड में पांच लाख का इनामी) को गिरफ्तार किया था। दोनों एक मकान पर कब्जा करने पहुंचे थे। 

Atiq Ashraf Murder: New disclosure on shooter Guddu Muslim, know what is the connection of the bomber with this big political party and Saudi

इसकी सूचना मिलने पर तत्कालीन एडीजी जोन प्रयागराज प्रेम प्रकाश ने अपनी टीम भेजकर दोनों को दबोच लिया था। मल्ली के पास दो बम भी बरामद किए गए थे। प्रयागराज पुलिस के मुताबिक मल्ली अतीक गैंग के टॉप-10 अपराधियों में शामिल है। मल्ली के खिलाफ प्रॉपर्टी डीलर जैद से रंगदारी मांगने समेत कई मुकदमे भी दर्ज हैं, जिनमें कुछ हत्या के मामले भी हैं।

Atiq Ashraf Murder: New disclosure on shooter Guddu Muslim, know what is the connection of the bomber with this big political party and Saudi

गुड्डू ने सिखाया बम बनाना - मल्ली को गुड्डू मुस्लिम ने बम बनाना सिखाया था। गुड्डू की तरह मल्ली की प्रयागराज में बमबाज के रूप में पहचान होने लगी थी। उमेश पाल हत्याकांड के बाद जब पुलिस ने मल्ली की तलाश शुरू की तो वह रातोंरात फरार होने में कामयाब हो गया।

उसके गुड्डू मुस्लिम के साथ होने की संभावना से भी अधिकारी इंकार नहीं कर रहे हैं। उसकी गिरफ्तारी से अतीक गिरोह से जुड़े कई अहम राज पता लगने की उम्मीद जताई जा रही है।

Atiq Ashraf Murder: New disclosure on shooter Guddu Muslim, know what is the connection of the bomber with this big political party and Saudi

उमेश की हत्या के बाद गया था गुजरात - जांच में ये भी सामने आया है कि 24 फरवरी को उमेश पाल की हत्या के बाद मल्ली गुजरात गया था और साबरमती जेल के पास ठिकाना बनाया था। इससे पहले वह अतीक के कहने पर हरियाणा के एक माफिया से भी मिलने गया था। एसटीएफ को शक है कि उमेश पाल हत्याकांड के शूटरों को पनाह देने के लिए अतीक ने हरियाणा के माफिया से मदद लेने के लिए मल्ली को भेजा था।

Atiq Ashraf Murder: New disclosure on shooter Guddu Muslim, know what is the connection of the bomber with this big political party and Saudi

सऊदी अरब में रहते हैं गुड्डू के तीन रिश्तेदार - जांच में सामने आया है कि गुड्डू मुस्लिम के तीन रिश्तेदार सऊदी अरब में रहते हैं। इनमें गुड्डू का भाई मोहम्मद असलम, भांजी साहिबा और भांजा ताबिश शामिल है।

वहीं, गुड्डू के आर्थिक मददगारों में मुकेश श्रीवास्तव के अलावा कटरा निवासी अशरफ उर्फ अख्तर का नाम भी शामिल है। पुलिस रिकॉर्ड में गुड्डू मुस्लिम को एक बड़े राजनीतिक दल से जुड़ा बताया गया है।