Ayodhya Ram Temple Bombs Threat: जैश-ए-मोहम्मद के ऑडियो मैसेज से अलर्ट पर अयोध्या, मिली है राम मंदिर को बम से उड़ाने की धमकी

 
Ayodhya Ram Temple Bombs Threat
पाकिस्तानी आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद का एक कथित ऑडियो मैसेज भारतीय सुरक्षा एजेंसियों के हाथ लगा है। इसमें राम मंदिर को बम से उड़ाने की धमकी दी गई है।

Ayodhya Ram Temple Bombs Threat: पाकिस्तानी आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद की ओर से राम मंदिर को उड़ाने की धमकी दिए जाने के बाद अयोध्या को हाई अलर्ट मोड पर कर दिया गया है। राम मंदिर के साथ महत्वपूर्ण जगहों की सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

इसी के साथ महर्षि वाल्मीकि एयरपोर्ट की भी सुरक्षा बढ़ा दी गई है। एसएसपी राज करण नैय्यर ने महर्षि वाल्मीकि एयरपोर्ट पहुंचकर सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया। हालांकि एसएसपी राज करण नैय्यर ने आतंकी संगठन के धमकी को लेकर कुछ भी बोलने से इनकार कर दिया है। 

Ayodhya Ram Temple Bombs Threat

रामनगरी अयोध्या की सुरक्षा व्यवस्था को लेकर कहा कि अयोध्या धाम को विभिन्न क्षेत्रों में विभाजित करते हुए सीनियर राजपत्रित अधिकारी के नेतृत्व में टीमों का गठन किया गया है। इनमें विभिन्न जोन में सुरक्षाकर्मी तैनात रहेंगे। इसके साथ ही जिला पुलिस के अलावा पीएसी की भी कई कंपनी प्राप्त हुई है।

Ayodhya Ram Temple Bombs Threat

जानकारी के लिए बता दें कि जैश-ए-मोहम्मद का एक ऑडियो मैसेज मिलने के बाद सुरक्षा एजेंसियां अलर्ट मोड पर हैं। ऑडियो मैसेज में कहा जा रहा है कि जिस बाबरी मस्जिद को तोड़कर मंदिर बनाई गई है। वहां हमारे तीन लोग भी शहीद हुए हैं।

राम मंदिर को गिराना हमारी जिम्मेदारी है। एसएसपी राजकरण नय्यर ने शुक्रवार को महर्षि वाल्मीकि एयरपोर्ट पहुंचकर सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया। उन्होंने मीडिया के सवालों का जवाब देते हुए कहा कि अयोध्या धाम की सुरक्षा पहले से ही कड़ी है।

Ayodhya Ram Temple Bombs Threat

यहां की सुरक्षा व्यवस्था को विभिन्न क्षेत्रों में विभाजित करते हुए सीनियर राजपत्रित अधिकारी के नेतृत्व में टीमों का गठन किया गया है। विभिन्न जोन में सुरक्षाकर्मी पहले से ही तैनात हैं।  जिला पुलिस के अलावा पीएसी की भी कई कंपनियां प्राप्त हुई हैं।

Ayodhya Ram Temple Bombs Threat

पीएसी को लगाकर सुरक्षा की जा रही है। महत्वपूर्ण स्थलों की भी सुरक्षा व्यवस्था की निगरानी 24 घंटे की जाती है। पूरे क्षेत्र को सीसीटीवी कैमरे के माध्यम से देखा जाता है, जो भी रियल टाइम इनपुट जनरेट होते हैं, उसको लेकर ग्राउंड पर लगे हुए लोगों को तत्काल कंट्रोल रूम से सूचित किया जाता है। उसी के हिसाब से कार्रवाई की जाती है। वहीं, रामजन्मभूमि परिसर में तैनात अधिकारियों व सुरक्षाकर्मियों को अलर्ट मोड पर कर दिया गया है।