Chandauli News: चंदौली जिला अस्पताल में बदहाली चरम पर, घंटो कराहता रहा मरीज, इलाज के नाम पर बाहर से मंगाकर लगाया इंजेक्शन

 
Chandauli News
जिला अस्पताल में भर्ती एक मरीज के परिजनों का आरोप है कि 14 घंटे तक मरीज स्ट्रेचर पर कराहता रहा, लेकिन इलाज नहीं शुरू किया गया। 

Chandauli News: चंदौली जिले में जिला अस्पताल के इमरजेंसी में स्ट्रेचर पर 14 घंटे तक मरीज दर्द से कराहता रहा, लेकिन उसका इलाज शुरू नहीं हो सका। परिजनों का कहना है कि काफी देर बाद जब चिकित्सक से इलाज की गुहार लगाई तो उन्होंने बाहर से एक 600 रुपये का इंजेक्शन मंगाकर लगा दिया।

जंगली सुअर के हमले से युवक के सिर, हाथ पैर, पेट में गंभीर चोटें आईं थीं। सुबह भी इलाज न होने पर परिजनों ने पूर्व विधायक मनोज डब्लू को फोन किया। उनके आने के बाद करीब 12 बजे इलाज शुरू हो सका। धानापुर थाना क्षेत्र के नरौली निवासी रामायण यादव (45) मंगलवार की शाम अपने खेत से पशु के लिए चारा काटने के लिए गए थे।

Chandauli News

वहीं जंगली सुअर ने उन पर हमला कर दिया। जिससे उनको गंभीर चोटें आईं। वहां मौजूद चरवाहे ने उन्हे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया। उनके भाई रामअवतार यादव ने बताया कि सीएचसी से हालत गंभीर बताकर जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया।

करीब रात 10 बजे जिला अस्पताल के इमरजेंसी में पहुंचे। भाई का सिर फट चुका था। हाथ, पैर और पेट में गंभीर चोटें थीं। इसके बाद भी काफी देर तक कोई इलाज नहीं हुआ। डॉक्टर से इलाज करने को कहा और गंभीर स्थिति बताई तो उन्होंने बाहर से 600 रुपये का इंजेक्शन मंगाकर लगा दिया।

Chandauli News

पूरी रात भाई स्ट्रेचर पर ही रहा, गंभीर स्थिति होने के बाद भी केवल क्लूकोज की बोतलें लटकाकर इलाज के नाम पर खानापूर्ति हुई। वहां मौजूद नर्सों ने इसके लिए भी 200 रुपये ले लिए। कहा कि बुधवार की दोपहर 11 बजे तक भी जब कोई इलाज नहीं शुरू हुआ तो सपा के पूर्व विधायक मनोज डब्लू को फोन कर अपनी व्यथा सुनाई।

वे 12 बजे के करीब अस्पताल पहुंचे और सीएमएस को फोन कर बात किया। उनके बात करने के बाद भाई का इलाज शुरू हुआ। उसका एक्सरे और ड्रेसिंग किया गया।  पूर्व विधायक मनोज सिंह डब्लू ने कहा कि जिम्मेदार अधिकारियों की उदासीनता के कारण चंदौली की स्वास्थ्य सेवाएं बेपटरी हो चुकी हैं।

Chandauli News

फोन कर कहने के बाद भी सुअर के हमले से गंभीर रूप से घायल युवक का इलाज नहीं शुरू हुआ। दोपहर में जब मौके पर आए तो 14 घंटे बाद इलाज शुरू हुआ। वही चंदौली के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉक्टर सत्य प्रकाश ने कहा कि जिला अस्पताल के इमरजेंसी में घायल युवक का प्राथमिक उपचार करने के बाद भर्ती कर लिया गया।

चिकित्सा के परामर्श पर उसका सिर्फ एक्स-रे करना बाकी था। जो सुबह कराया गया और घायल का उपचार चल रहा है।

Chandauli News