Lok Sabha 2024: पीएम मोदी के वाराणसी से चुनाव लड़ने व ओवैसी को लेकर ये क्या कह दिया वरिष्ठ सपा नेता अतहर जमाल लारी ने ?

 
Lok Sabha 2024

Lok Sabha 2024: समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता अतर जमाल लारी ने पीएम मोदी को पुनः वाराणसी से प्रत्याशी बनाए जाने को लेकर कहा कि हमारे देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तीसरी बार फिर वाराणसी से लोकसभा का चुनाव लड़ेंगे।

अभी इंडिया गठबंधन से किसी प्रत्याशी का ऐलान नहीं हुआ है हमने कल ऐलान होते ही एक बात कही है और आज फिर मैं कह दे रहा हूं कि इंडिया गठबंधन में यह सीट कांग्रेस को गई है तो कांग्रेस के नेताओं से एक अपील करेंगे कि वाराणसी लोकसभा से इंडिया गठबंधन का उम्मीदवार सतपाल मलिक को बनाया जाये। यह बड़ा ही अच्छा रहेगा।

Lok Sabha 2024

अगर हमारी बात पसंद आये तो इस पर इंडिया गठबंधन और खासतौर से कांग्रेस के नेताओं को विचार विमर्श करना चाहिये। क्योंकि माननीय सतपाल मलिक भी भाजपा में रहे हैं, और इसी सरकार में गवर्नर से लेकर कई पदों पर रहे हैं, और जिस बेबाकी से उन्होंने इस सरकार की कारगुजारियों का पर्दाफाश किया है।

जब वह वाराणसी लोकसभा से चुनाव लड़ेंगे तो तमाम उन बातों को जनता के बीच में मजबूती से रखने का काम करेंगे, और एक बड़ी टक्कर वाराणसी लोकसभा के चुनाव में होगी। साथ ही उन्होने अससुद्दीन औवैसी पर कटाक्ष करते हुये कहा कि एआईएमआईएम के प्रवक्ता का यह बयान कि वो सात सीटों पर लोकसभा का चुनाव उत्तर प्रदेश में लड़ेंगे, और आगे सीट और भी बढ़ सकती है।

Lok Sabha 2024

खासतौर से जहां पर अखिलेश यादव लड़ेंगे, शिवपाल यादव लड़ेंगे या रामगोपाल यादव के पुत्र लड़ेंगे और ऐसे जितने पश्चिम की मुस्लिम बहुल लोकसभा की सीटें हैं वहां से वह अपने उम्मीदवार खड़ा करेंगे। जिससे साफ जाहिर होता है कि उनकी मंशा कहीं ना कहीं भाजपा को मदद करने की है।

अगर उनको उम्मीदवार लड़ाना ही है तो तेलंगाना में लोकसभा क्यों नहीं लड़ाते। सिर्फ एक सीट पुराने हैदराबाद शहर से खुद लड़ते हैं, और बाकी सब छोड़ देते हैं लेकिन देश के और क्षेत्रों में हर जगह चुनाव लड़ेंगे। जिस पर मैं पूछना चाहता हूं कि उनके चुनाव लड़ने से सेक्युलर वोटो का बंटवारा होगा तो फायदा किसका होगा।

Lok Sabha 2024

साथ ही मैं अपने समाज के लोगों से पूछना चाहता हूं कि आखिर वह किसकी मदद करना चाहते हैं। वोट का बंटवारा होगा तो फायदा किसको पहुंचेगा। हम अपने मुस्लिम नौजवानों से भी कहना चाहेंगे कि वह जोश में अपना होश ना खोये बल्कि संजीदा होकर इस पर विचार करने का काम करें।

यह वक्त भारतीय जनता पार्टी को इस देश से हटाने का है ना कि अपना जनाधार बढ़ाने का है। एक तरफ संविधान को मिटाने वाले लोग हैं और एक तरफ संविधान को बचाने वाले लोग हैं एक तरफ अंधभक्त है तो दूसरी तरफ देशभक्त हैं।

Lok Sabha 2024

एक तरफ लोकतंत्र और देश को बचाने वाले हैं तो दूसरी तरफ देश को तोड़ने वाले हैं और इन्हीं दो ताकतों में अब लड़ाई होगी। पूरे देश और खासतौर से उत्तर प्रदेश में हम असदुद्दीन ओवैसी से कहना चाहेंगे कि अगर आप भारतीय जनता पार्टी को सही में इस देश से हटाना चाहते हैं तो बिना किसी शर्त के इंडिया गठबंधन का साथ दें, अगर आज आप साथ देंगे तो कल तमाम लोगों का आपको भी साथ मिलेगा।