Muzaffarnagar: इमराना के संपर्क में रहे 19 लोग आये एसटीएफ के रडार पर, आरोपी महिला को भेजा जेल

 
Muzaffarnagar
पुलिस ने इमराना को कोर्ट में पेश किया जहां से उसे जेल भेज दिया गया है। पुलिस ने मुकदमे में विस्फोटक अधिनियम के तहत षड्यंत्र रचने की धारा बढ़ाई है। 

Muzaffarnagar: ऑर्डर देकर जावेद से टाइमर बोतल बम बनवाने की आरोपी इमराना से आईबी, एटीएस व एसटीएफ से बीस घंटे से ज्यादा समय तक पूछताछ की। आरोपी ने महत्वपूर्ण जानकारी दी हैं। तीनों टीम पूछताछ कर दोपहर में वापस लौट गईं।

पुलिस ने इमराना को कोर्ट में पेश किया जहां से उसे जेल भेज दिया गया है। पुलिस ने मुकदमे में विस्फोटक अधिनियम के तहत षड्यंत्र रचने की धारा बढ़ाई है। उधर, इमराना के संपर्क में रहे 19 लोग एसटीएफ के रडार पर हैं।

Muzaffarnagar

एसटीएफ व शहर कोतवाली पुलिस टीम ने 16 फरवरी को जावेद को चार टाइमर बोतल बम के साथ पकड़ा था तो उसने प्रेमपुरी निवासी इमराना के आर्डर पर बम बनाना बताया था। एसटीएफ व कोतवाली पुलिस ने 17 फरवरी को इमराना को पकड़ लिया था।

शनिवार देर शाम दिल्ली से पहुंची आईबी, एटीएस व एसटीएफ की टीम ने 20 घंटे तक एकांत में इमराना से पूछताछ की। कोतवाली पुलिस ने बताया कि इस मामले में जावेद को गिरफ्तार करने से पहले ही मुकदमा दर्ज कर लिया गया था। 

Muzaffarnagar

बताया गया कि जावेद व इमराना को जिला पुलिस रिमांड पर लाएगी और उनसे गहनता से पूछताछ की जाएगी। इमराना को रिमांड पर लाने के लिए सोमवार को कार्रवाई शुरू की जाएगी। जावेद से टाइमर बोतल बम (आईईडी) बरामद होने के बाद यह मामला पूरे देश में चर्चा में आ गया था।

इसके बाद गृह मंत्रालय ने भी सक्रियता दिखाई थी और आईबी टीम को पूरे मामले की तह तक पहुंचने के लिए लगाया था। दोनों आरोपियों से पूछताछ करने वाली टीम के अलावा एक अन्य टीम ने जावेद व इमराना की घरेलू पृष्ठभूमि की जानकारी ली। उनके नेटवर्क के बारे में भी जानकारी जुटाई है।

Muzaffarnagar

आईबी अपनी कार्रवाई के बारे में रोजाना अपने मुख्यालय को रिपोर्ट भेजती रही। सूत्र बताते हैं कि आईबी से इस मामले में गृह मंत्रालय ने सोमवार को अपनी रिपोर्ट पेश करने को कहा था। रविवार दोपहर में इमराना से पूछताछ करने के बाद आईबी टीम लौट गई। आईबी टीम के बाद एटीएस व एसटीएफ टीम भी चली गई है।

Muzaffarnagar