Sambhal Murder: पत्नी ने रची पति के हत्या की खौफनाक साजिश, पुलिस ने किया सनसनीखेज खुलासा, जानिये हत्या की पूरी कहानी?

 
Sambhal Murder
महिला ने गांव के एक शख्स से अवैध संबंध बनाए। ऐसे में उसने बीमार पति को रास्ते से हटाने का प्लान बनाया। लेकिन हत्या से पहले उसका बीमा करवाया गया। फिर 3 महीने बाद पति को शराब के नशे में कर बेरहमी से हत्या कर दी गई।

Sambhal Murder News Today: यूपी की संभल पुलिस ने सड़क किनारे एक युवक का खून से लथपथ शव मिलने के मामले में सनसनीखेज खुलासा किया है। पुलिस के मुताबिक इस घटना में मृतक की पत्नी और पत्नी का प्रेमी शामिल है।

उनके साथ दो और शख्स इस पूरी वारदात में शामिल थे। प्रेमी के साथ जिंदगी गुजारने और 20 लाख की बीमा राशि हड़पने के लिए पत्नी ने ही अपने पति के मर्डर की स्क्रिप्ट लिखी थी। फिलहाल, तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है।

Sambhal Murder

दरअसल, कैला देवी थाना इलाके के मुबारकपुर गांव के निवासी रामनिवास का शव खून से लथपथ हालत में 12 मार्च को संभल गंवा मार्ग पर पड़ा हुआ मिला था। मौके पर पहुंची पुलिस ने मृतक के शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया था। रामनिवास के शव की हालत को देखकर उसकी हत्या कर शव फेंके जाने की आशंका जताई जा रही थी।

सीओ अनुज चौधरी के नेतृत्व में कैला देवी थाना पुलिस ने जांच पड़ताल आगे बढ़ाई तो हत्या करके फेंके जाने का शक हकीकत में बदल गया और परत दर परत घटना को अंजाम देने वाले हत्यारों से लेकर हत्या की साजिश रचने वाली मृतक की पत्नी का नाम पुलिस के सामने आ गया।

Sambhal Murder

जिसके बाद पुलिस ने मृतक की पत्नी राजवती, राजवती के प्रेमी विजय सिंह और एक जन सेवा केंद्र संचालक रामकिशन को गिरफ्तार कर लिया। पहले तो तीनों ने पुलिस को गुमराह करने की कोशिश की लेकिन कड़ाई से पूछताछ और सबूत दिखाने पर वो टूट गए और अपना जुर्म कुबूल कर लिया।

पुलिस को हत्यारोपियों से पूछताछ में पता चला कि मृतक रामनिवास के पिछले काफी समय से बीमारी से पीड़ित होने के कारण उसकी पत्नी राजवती के प्रेम संबंध गांव के ही राशन डीलर के भाई विजय सिंह के साथ हो गए थे। दोनों के बीच प्रेम प्रसंग के चलते ही विजय सिंह अक्सर राजवती को फ्री राशन भी देता था।

Sambhal Murder

विजय से प्रेम प्रसंग के चलते राजवती अपने पति रामनिवास के साथ नहीं रहना चाहती थी। ऐसे में राजवती ने विजय से अपने पति रामनिवास को रास्ते से हटाने की बात की। जिसपर प्रेमी विजय ने राजवती को अपने पति का बीमा कराकर बीमा राशि हड़पने के बाद रास्ते से हटाने की सलाह दी।

राजवती ने प्रेमी विजय सिंह की सलाह मानते हुए कस्बे में स्थित जन सेवा केंद्र संचालक रामकिशन से सेटिंग करके बीमार पति रामनिवास का 20 लाख रुपये का बीमा करवाया। ये बीमा 3 महीने पहले कराया गया था।

Sambhal Murder

बीमा राशि हड़पने की पूरी प्लानिंग करने के बाद रामनिवास की पत्नी राजवती और उसके प्रेमी विजय सिंह ने मिलकर हत्या की पूरी स्क्रिप्ट तैयार की। इसके बाद 12 मार्च को जन सेवा केंद्र संचालक रामकिशन मुबारकपुर गांव से रामनिवास को अपनी बाइक पर बैठाकर गंवा ले गया था।

लेकिन जब रामकिशन रामनिवास को लेकर वापस लौट रहा था तो वह प्लानिंग के तहत रामनिवास को उसके घर ना ले जाकर जंगल में ले गया और फिर रामनिवास को शराब पिलाकर नशे में धुत कर दिया। इसी दौरान विजय सिंह और उसका एक साथी धर्मेंद्र भी मौके पर पहुंच गया और रामनिवास के सिर पर सरिया से हमला कर दिया।

Sambhal Murder

हत्या करने के बाद खून से लथपथ शव को सड़क दुर्घटना का रंग देने के लिए कमालपुर गांव के पास रोड किनारे फेंक दिया था। लेकिन हत्या के 5 दिन बाद आरोपी पुलिस के हत्थे चढ़ गए।