Saurabh Singh Murder Case: गोरखपुर जेल में रची गई हत्या की साजिश, पुलिस ने किया खुलासा

 
Saurabh Singh Murder Case
पुलिस की पूछताछ में हत्यारोपी ने बताया कि सौरभ के पिता सुरेश सिंह उसके परिवार को पट्टीदारों से मिलकर परेशान कर रहे थे। कुछ मामलों को लेकर उसके परिवार के खिलाफ मुकदमे भी दर्ज करवाए थे।

Saurabh Singh Murder Case: उत्तर प्रदेश के मऊ जिले के चिरैयाकोट क्षेत्र के असलपुर गांव में बीते 29 नवंबर को गांव निवासी 24 वर्षीय सौरभ सिंह की हत्या की साजिश गोरखपुर जेल में रची गई थी। गांव के ही शख्स ने उसे मौत के घाट उतारा था।

पुलिस की तीन टीमों ने मंगलवार को दोनों अभियुक्तों को गिरफ्तार कर उनके पास से हत्या में प्रयोग किए गए तीन तमंचे और एक मोटरसाइकिल बरामद कर की है। मंगलवार को पुलिस लाइन सभागार में प्रेसवार्ता के दौरान अपर पुलिस अधीक्षक महेश सिंह अत्री ने बताया कि पिछले माह घटना के बाद से पुलिस अधीक्षक अविनाश पांडेय के निर्देशन में चिरैयाकोट थाना की पुलिस, एसओजी और स्वाट टीम को लगाया गया था।

Saurabh Singh Murder Case

मंगलवार को पुलिस की तीनों टीमों ने मुखबीर की सूचना पर रानीपुर थाना के कोडरा की तरफ से आने वाली सड़क पर अभियुक्त सूर्यकेन्द्र सिंह उर्फ छोटू सिंह पुत्र जयनारायण सिंह निवासी असलपुर, थाना चिरैयाकोट को गिरफ्तार किया।

पुलिस की पूछताछ में हत्यारोपी ने बताया कि सौरभ के पिता सुरेश सिंह उसके परिवार को पट्टीदारों से मिलकर परेशान कर रहे थे। कुछ मामलों को लेकर उसके परिवार के खिलाफ मुकदमे भी दर्ज करवाए थे।

Saurabh Singh Murder Case

इसको लेकर उसका पूरा परिवार परेशान था। बताया कि इसके पहले भी गांव में वर्चस्व की जंग को लेकर दो हत्याएं की गई थीं। जिसमें गांव के ही राहुल सिंह का नाम था, जो अभी गोरखपुर जेल में बंद है। उससे हत्यारोपी का मिलना-जुलना था।

राहुल के साथ मिलकर वह अपने गांव में अपना वर्चस्व बनाना चाहता था, लेकिन सौरभ सिंह और उसके पिता सुरेश सिंह इसमें रोड़ा बन रहे थे। इसी बात को लेकर सौरभ को रास्ते से हटाने की साजिश रची गई थी।

Saurabh Singh Murder Case

घटना के दिन गांव से बरात गाजीपुर जनपद गई थी। बारात में सौरभ के जाने की जानकारी होने पर वह भी गया था। करीब दस बजे वह घर आ गया और सौरभ की हत्या करने का इंतजार करने लगा।करीब रात एक बजे घर के पास आने पर उसकी तीन गोली मारकर हत्या कर दी।

उसने अपने पिता जयनारायण सिंह को सारी बातें बताईं और उसके सहयोग से तमंचा को पास के ही एक झाड़ी में छुपा दिया। उसके बाद वे घर में ही सो गये। अभियुक्त की निशानदेही पर असलपुर गांव से ही तीन तमंचे बरामद किये गए तथा वहीं से जयनारायण सिंह को गिरफ्तार किया गया।

Saurabh Singh Murder Case

गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम में प्रभारी निरीक्षक चिरैयाकोट प्रवीण कुमार सिंह, एसओजी प्रभारी अमित मिश्र, स्वाट टीम प्रभारी निरीक्षक धर्मेन्द्र कुमार सिंह सहित अन्य पुलिसकर्मी थे।

Saurabh Singh Murder Case

Saurabh Singh Murder Case