Sawan Somwar 2023: काशी विश्वनाथ सहित हर-हर महादेव के जयकारों से गूंज उठे पूर्वांचल के शिवालय

 
Sawan Somwar 2023: Shivalayas of Purvanchal echoed with the chants of Har Har Mahadev including Kashi Vishwanath

Sawan Somwar 2023: सावन के पहले सोमवार पर काशी पुराधिपति की नगरी समेत पूर्वांचल के शिवालय हर-हर महादेव और बोल बम के जयघोष से गुंजायमान है। 'हर-हर, बम-बम' के बोल संग गूंजती कांवरियों की बोली के साथ आस्थावानों की टोली लगातार आगे बढ़ रही है।

भोलेनाथ की कृपा पाने के लिए दौड़ते, झूमते, गाते, नाचते भक्त महादेव के जयकारे लगाते श्रद्धालु आस्था के पथ पर आगे बढ़ रहे हैं। वाराणसी के अलावा आजमगढ़, बलिया, भदोही, चंदौली, गाजीपुर, जौनपुर, मऊ, मिर्जापुर और सोनभद्र जिले के शिवालयों में सुबह से ही जलाभिषेक और दर्शन-पूजन का क्रम जारी है। सावन का आरंभ तो चार जुलाई से ही हो गया, लेकिन मास का पहला सोमवार श्रद्धा की फुहार लेकर आया। 

Sawan Somwar 2023: Shivalayas of Purvanchal echoed with the chants of Har Har Mahadev including Kashi Vishwanath

भदोही जिले के ज्ञानपुर स्थित सिद्धपीठ हरिहरनाथ महादेव, गोपीगंज स्थित बाबा बड़े शिव, तिलंगानाथ महादेव, तिलेश्वरनाथ महादेव और सेमराध धाम में कुएं के 15 फीट नीचे स्थित स्वयंभू शिवलिंग बाबा सेमराधनाथ धाम में आस्था का सैलाब उमड़ पड़ा। 

मंदिरों पर प्रातः काल से ही कतार लग गई थी। शिवमय हुए पूरे जिले में आस्था की डुबकी में हर व्यक्ति ने गोता लगाया। सावन के पहले सोमवार को आजमगढ़ जनपद के शिवालयों में श्रद्धालुओं का रेला उमड़ पड़ा। नगर के भंवरनाथ मंदिर परिसर में लंबी कतार लगी हुई है।

Sawan Somwar 2023: Shivalayas of Purvanchal echoed with the chants of Har Har Mahadev including Kashi Vishwanath

हर-हर महादेव के जयकारे से मंदिर गुजायमान हो रहा है। सुरक्षा की दृष्टि से पुलिस प्रशासन भी पूरी तरह से मुस्तैद है। जनपद के प्रसिद्ध शिवालयों में सुबह से ही बाबा के जलाभिषेक को भक्तों की लंबी कतार लगी हुई है। भीड़ को देखते हुए रूट डायवर्जन लागू है। 

सावन के पहले सोमवार पर सोनांचल के शिवालयों में भक्तों का रेला उमड़ पड़ा। सुबह से ही लंबी कतारों में लगकर बाबा भोलेनाथ का जलाभिषेक किया। दर्शन-पूजन कर महादेव का आशीर्वाद लिया। हर-हर महादेव के उदघोष से शिवालय गुंजायमान रहे।

Sawan Somwar 2023: Shivalayas of Purvanchal echoed with the chants of Har Har Mahadev including Kashi Vishwanath

घोरावल स्थित शिवद्वार मंदिर में उमा-महेश्वर की प्रतिमा के पूजन-अर्चन और जलाभिषेक के लिए रात में ही कांवरियों का जत्था मंदिर परिसर में पहुंच गया था। रौप स्थित पंचमुखी महादेव, बरेला महादेव, वीरेश्वर महादेव, सोमनाथ मंदिर सहित अन्य शिवालयों में भी भीड़ लगी रही।

Sawan Somwar 2023: Shivalayas of Purvanchal echoed with the chants of Har Har Mahadev including Kashi Vishwanath

भक्तों के बोल-बम, हर-हर महादेव के जयघोष से लहुरी काशी के नाम से प्रसिद्ध जिला शिवमय हो गया है। गाजीपुर के अलावा मऊ, बलिया, आजमगढ़ जिले से भी बड़ी संख्या में शिवभक्तों का प्रसिद्ध महाहर धाम में पहुंचने का दौर जारी है।

Sawan Somwar 2023: Shivalayas of Purvanchal echoed with the chants of Har Har Mahadev including Kashi Vishwanath

मोक्षदायिनी गंगा नदी के विभिन्न घाटों से जल लेकर भक्तजन भोर से ही भगवान भोलेनाथ का पूजन-अर्चन और जलाभिषेक के लिए कतारबद्ध हैं। सावन माह के पहले सोमवार को जौनपुर जिले के विभिन्न शिवालयों में भगवान भोलेनाथ के शिवभक्तों का रेला उमड़ा।

Sawan Somwar 2023: Shivalayas of Purvanchal echoed with the chants of Har Har Mahadev including Kashi Vishwanath

जलालपुर क्षेत्र के त्रिलोचन महादेव मंदिर और सुजानगंज के ऐतिहासिक गौरीशंकर धाम में सुबह चार बजे से ही जलाभिषेक शुरू हो गया। दोनों ही मंदिरों में प्रयागराज और वाराणसी से आने वाले कांवरियों ने जल चढ़ाया। अन्य शिवभक्तों ने भी जलाभिषेक किया।