State: खरगे की बैठक से TMC-BRS और सपा ने बनाई दूरी

विपक्षी दलों में दिख रही तालमेल की कमी

 
State: TMC-BRS and SP keep distance from Kharge's meeting
विपक्षी खेमे के कई दलों के बीच आपसी तालमेल की कमी दिखाई दे रही है। इसका ताजा उदाहरण सोमवार को देखने को मिला जब कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे की तरफ से बुलाई गई विपक्षी रणनीति की बैठक से तृणमूल कांग्रेस बीआरएस और सपा के नेता गायब रहे।

State: कांग्रेस के साथ असहज रिश्तों के चलते विपक्षी बैठक से दूरी बनाने का तृणमूल कांग्रेस का रूख तो अब जगजाहिर है, मगर बजट सत्र के दूसरे चरण के पहले दिन समाजवादी पार्टी और भारत राष्ट्र समिति जैसे दलों ने भी विपक्ष की बैठक में शामिल न होकर विपक्षी खेमे में सब कुछ दुरूस्त नहीं होने के फिर पुख्ता संकेत दिए। वहीं, आम आदमी पार्टी का संसद में विपक्ष की साझा रणनीति की बैठक में शामिल होना भी इस बात के संकेत हैं कि तमाम क्षेत्रीय दलों के बीच भी आपसी तालमेल का अभाव है।

State: TMC-BRS and SP keep distance from Kharge's meeting

अदाणी मुद्दे पर बजट सत्र के पहले चरण में तृणमूल कांग्रेस को छोड़कर विपक्ष की लगभग तमाम पार्टियां कांग्रेस की अगुवाई में सरकार को घेरने के लिए संयुक्त रणनीति बनाने पर एकजुट रही थीं, लेकिन सोमवार को सत्र के दूसरे चरण के पहले दिन राज्यसभा में नेता विपक्ष मल्लिकार्जुन खरगे की अध्यक्षता में हुई विपक्षी दलों की बैठक में बेशक 16 पार्टियां शामिल हुईं, मगर टीएमसी, सपा और भारत राष्ट्र समिति (बीआरएस) का कोई नेता इसमें शामिल नहीं हुआ।

State: TMC-BRS and SP keep distance from Kharge's meeting

सत्र के पहले हिस्से में कुछ दिनों तक टीएमसी विपक्ष की बैठक में शामिल हुई थी, मगर अदाणी मुद्दे पर जेपीसी की कांग्रेस और अन्य दलों की मांग से दूरी बनाकर तृणमूल कांग्रेस ने खरगे की बैठकों में जाना छोड़ दिया था, जबकि सपा और बीआरएस के नेता लगभग हर विपक्षी बैठक का हिस्सा रहते थे।

State: TMC-BRS and SP keep distance from Kharge's meeting

बीआरएस नेता तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव की बेटी के कविता की ईडी द्वारा दिल्ली शराब नीति विवाद में की गई पूछताछ के प्रकरण में कांग्रेस ने जिस तरह न केवल दूरी बनाई, बल्कि कविता पर इसमें शामिल होने का आरोप लगाया, उसे देखते हुए बीआरएस की खरगे की बैठक से अनुपस्थिति समझी जा सकती है, लेकिन जेपीसी मांग पर मुखर रही सपा की बैठक से दूरी जरूर विपक्षी खेमे की चिंता में इजाफा करेगा।

State: TMC-BRS and SP keep distance from Kharge's meeting

विपक्षी खेमे की राजनीति करने वाले इन क्षेत्रीय दलों और कांग्रेस के असहज रिश्ते नई बात नहीं है, मगर दिलचस्प यह है कि अब इन क्षेत्रीय दलों के बीच आपसी तालमेल की कमी नजर आ रही है। तृणमूल कांग्रेस, आम आदमी पार्टी और बीआरएस के बीच तमाम मुद्दों पर पिछले कुछ अर्से के दौरान निकटता रही है। 

State: TMC-BRS and SP keep distance from Kharge's meeting

केंद्रीय जांच एजेंसियों के दुरूपयोग का मुद्दा प्रमुखता से उठाने को लेकर 'आप' आक्रामक है और खरगे की बैठक में भी उसने अदाणी के साथ इस मसले पर अपने तेवर दिखाए, लेकिन बीआरएस और टीएमसी यहां 'आप' के तेवरों में सुर मिलाने के लिए मौजूद नहीं थे।