Varanasi Crime: 21 गोवंशों को लंका पुलिस ने कराया मुक्त, मृत मिले 9 का कराया अंतिम संस्कार

 
Varanasi Crime
मौके से फरार वाहन चालक व वाहन मालिक की पुलिस के द्वारा तलाश जारी 

Varanasi Crime: वाराणसी। उच्चाधिकारीगण द्वारा अपराध एवं अपराधियों के विरुद्ध चलाये जा रहे अभियान के परिपेक्ष्य में थाना लंका पुलिस की टीम हाइवे पर चेकिंग कर रही थी कि इसी दौरान वाहन संख्या जेएच 03 आर 6104 तेज गति से सामने से गुजरी।

शक होने पर वाहन उपरोक्त को रुकने का इशारा किया गया एवं प्रयास कर डाफी टोल प्लाजा के पास रुकवाया गया। जहां जाम व अन्य गाड़ियों की आड़ में मौका पाकर वाहन चालक वाहन से उतरकर फरार हो गया।

Varanasi Crime

मौके पर खड़ी करायी गयी गाड़ी की तलाशी ली गयी तो गाड़ी में क्रूरतापूर्ण ढ़ंग से गोवंशीय जानवर लदे पाये गए। अन्दर की स्थिति इस तरह थी कि एक-दूसरे पर जानवर चढ़े हुए थे। जाम की स्थिति को देखते हुए वाहन को दूसरे तरफ खींचवाकर ले जाया गया।

जहां जानवरों को धीरे-धीरे उतरवा कर पानी की व्यवस्था कराकर पिलवाया गया। गणना की गयी तो कुल 21 गोवंशीय जानवर बरामद हुए जिसमें से 08 गाय व 13 बैल थे। पशुपालन विभाग व नगर निगम के पशु चिकित्सक को मौके पर बुलाया गया।

Varanasi Crime

जिनके द्वारा परीक्षण किया गया तो 02 गाय और 07 बैल कुल 09 मृत अवस्था में पाये गये। अन्य जानवरों को जो अस्वस्थ थे, डा. अजय सिंह, नगर निगम व डा. दिनेश कुमार एल0ई0ओ0 बीएचयू एवं डा. लवलेश सिंह बी0ओ0 विद्यापीठ, पशु चिकित्सक के सहयोग से दवा-इलाज कराया जा रहा है।

मृत गोवंशों को पोस्टमार्टम के उपरान्त नियमानुसार गड्ढा खुदवाकर नमक की बोरियां एवं गंगाजल डलवाकर अन्तिम संस्कार किया गया। बरामद जीवित गोवंशों को उनके खाने-पीने की समुचित व्यवस्था हेतु गोशाला में व्यवस्था करायी गयी।

Varanasi Crime

वाहन को पुलिस ने कब्जे में लेकर सीज करने की कार्यवाही किया, तथा मौके से फरार चालक एवं वाहन मालिक के विरुद्ध अभियोग पंजीकृत कराया गया जिनकी तलाश जारी है। मौके पर शान्ति व्यवस्था बनी हुई है  तथा मामले के सम्बन्ध में अन्य आवश्यक विधिक कार्यवाही की जा रही है।

वहीं इस सम्बन्ध में थाना लंका पर मुअसं.  86/2024 धारा 3/5ए/5बी/8 गोवध निवारण अधिनियम व 11 पशु क्रूरता अधिनियम एवं 429 आईपीसी दर्ज किया गया है।

Varanasi Crime

बरामदगी करने वाली पुलिस टीम में प्रभारी निरीक्षक शिवाकान्त मिश्र, थाना लंका, उनि. अश्वनी कुमार राय, चैकी प्रभारी रमना, उनि. मनोज कुमार राजपूत, हे.कां. श्रीप्रकाश यादव, कां. ऋषिकेश राय, कां. चन्दन पाण्डेय, कां. पुरुषोत्तम मिश्रा, कां. प्रेमचन्द मौर्या, कां. रोशन कुमार, कां. हरिनिवास, थाना लंका शामिल रहे।