Varanasi Crime: बनारस की लुटेरी दुल्हन ने जोधुपर के दूल्हे से 95 हजार लेकर की शादी, फिर ऑटो से कूदकर भागी

 
Varanasi Crime
जोधपुर निवासी युवक शादी के लिए वाराणसी आया था। यहां उसकी शादी वाराणसी की युवती के साथ कचहरी में हुई। इस दौरान दुल्हन के घर वाले गरीबी का हवाला देकर नगदी आदि भी ले लिए। शादी के बाद जब दूल्हा और दुल्हन ऑटो से जाने लगे तब तय जगह ऑटो को रूकवाकर दुल्हन भाग गई।

Varanasi Crime: जिले में एक हैरान करने वाला मामला आया है। यहां एक लाख 95 हजार रुपये खर्च कर शादी करने के बाद राजस्थान के जोधपुर निवासी दूल्हे की दुल्हन राजघाट स्थित मालवीय पुल के समीप ऑटो से कूद कर भाग गई। दूल्हे ने दुल्हन की खोजबीन की, लेकिन उसका कहीं पता नहीं लगा।

दूल्हे ने आशंका जताई है कि वह पूर्वांचल के लुटेरी दुल्हन गिरोह का शिकार हुआ है। जोधपुर निवासी जैन दिनेश कांतिल ने बताया कि वह अपने चार मित्रों के साथ गत 27 मार्च को वाराणसी आया था। जोधपुर के एक व्यक्ति के माध्यम से वाराणसी की एक महिला की उसकी शादी की बात हुई थी।

Varanasi Crime

वाराणसी आकर वह कैंट स्टेशन के सामने एक होटल में रुका। अगली सुबह एक व्यक्ति आया और उसे युवती की फोटो दिखाया। फोटो में युवती पसंद आने के बाद वह व्यक्ति दिनेश को सूजाबाद, रामनगर स्थित उसके घर ले गया।

शादी की बात तय हो गई तो परिवार की खराब आर्थिक स्थिति का हवाला देकर कपड़े खरीदने के लिए दिनेश से 15 हजार रुपये की मांग की गई। 30 मार्च को दिनेश और युवती कचहरी पहुंचे। युवती के साथ उसकी कथित मां और दो अन्य लोग भी थे।

Varanasi Crime

कचहरी में दोनों की नोटेरियल शादी हुई। इसके बाद दो टेंपो में सवार होकर सभी सूजाबाद स्थित एक मंदिर पहुंचे। मंदिर में हिंदू रीति-रिवाज के अनुसार दोनों का विवाह संपन्न हुआ। इस बीच युवती के परिवार की आर्थिक स्थिति खराब होने का हवाला देकर दिनेश से एक लाख 80 हजार रुपये और लिया गया।

शादी के बाद दिनेश दुल्हन को लेकर सूजाबाद से ऑटो से चला। दिनेश के अनुसार, राजघाट स्थित मालवीय पुल से थोड़ा पहले उसके ऑटो के सामने एक ऑटो आकर रुका। इसके बाद दुल्हन ऑटो से कूद कर दूसरे ऑटो में बैठ गई। फिर, सभी तेजी से निकल गए।

Varanasi Crime

दिनेश ने बताया कि वह दुल्हन की खोजबीन की, लेकिन उसका पता नहीं लगा। उधर, इस संबंध में एसीपी कोतवाली अमित पांडेय ने बताया कि घटना की मौखिक जानकारी मिली थी। उसके आधार पर जांच कराई जा रही है। किसी की ओर से अभी तहरीर नहीं दी गई है।

Varanasi Crime