Varanasi Crime: बुरखे की आड़ में दिया घटना को अंजाम, पुलिस ने धर दबोचा

 
Varanasi Crime
अभियुक्तों के पास से 1 लाख 19 सौ रूपये नगद, एक लैपटाप, एक पेनड्राइव, मोटर साइकिल, लोहे का कटर व घटना में प्रयुक्त बुरखे को पुलिस ने किया बरामद

Varanasi Crime: वाराणसी। पुलिस आयुक्त द्वारा अपराधों की रोकथाम तथा आगामी लोकसभा चुनाव के मद्देनजर चोरी, लूट की घटनाओं के सफल अनावरण एवं वांछित, फरार अभियुक्तों की गिरफ्तारी हेतु चलाये जा रहे अभियान के क्रम में पुलिस उपायुक्त काशी जोन के निर्देशन में, अपर पुलिस उपायुक्त काशी जोन के पर्यवेक्षण में एवं सहायक पुलिस आयुक्त कोतवाली व राजीव कुमार सिंह प्रभारी

निरीक्षक कोतवाली के कुशल नेतृत्व में थाना कोतवाली की पुलिस टीम के द्वारा पिछले दिनों थाना कोतवाली पर अशोका केमिकल्स एजेन्सी मछोदरी पार्क मुहल्ला कतुआपुरा के गोदाम का ताला तोड़कर आलमारी में रखे रूपये व अन्य सामानों के चोरी होने के सम्बन्ध में मुअसं. 44/24 धारा 457, 380 आईपीसी का सफल अनावरण करते हुये गोदाम से चोरी गये 1 लाख 19 सौ रूपये नगद, एक लैपटाप, एक

Varanasi Crime

पेनड्राइव के साथ शातिर चोर के पास से बरामद करने में सफलता प्राप्त किया गया। उक्त गिरफ्तारी बरामदगी के सम्बन्ध में थाना कोतवाली पर गोदाम का ताला तोड़कर चोरी के सम्बन्ध में पंजीकृत मुकदमें धारा 411, 201 आईपीसी की बढ़ोत्तरी करते हुये गिरफ्तारशुदा अभियुक्त के खिलाफ विधिक कार्यवाही की जा रही है।

घटना के सम्बन्ध में अंकित अग्रवाल पुत्र अशोक अग्रवाल निवासी रविन्द्रपुरी कालोनी थाना भेलूपुर के थोक खाद्य तेल मेसर्स अशोका केमिकल एजेन्सी मछोदरी पार्क से अज्ञात चोर द्वारा दिनांक 5/5/2024 की रात्रि में दुकान का ताला तोड़कर आलमारी में रखा रूपये व लैपटाप, फर्म मेसर्स अशोका केमिकल्स एजेन्सी का व फर्म श्री बजरंग आयल मिल्स के लेखा जोखा दस्तावेज व पेनड्राइव आदि सहित अन्य

सामान चोरी किये जाने के सम्बन्ध में थाना कोतवाली पर लिखित शिकायत दर्ज करायी गयी थी, जिसमें थाना कोतवाली की पुलिस के द्वारा अभियुक्त मनीष गुप्ता पुत्र स्व. मोती लाल निवासी कतुआपुरा थाना कोतवाली को चोरी किये गये सामानों के साथ गिरफ्तार किया गया है।

पूछताछ के क्रम में गिरफ्तार अभियुक्त द्वारा बताया गया कि मै जेल जा चुका हूं और अभी कुछ दिन पूर्व ही जेल से छूटकर आया था और मैने जानकारी किया कि मेरे घर के पास ही तेल का गोदाम है जिसमें प्रतिदिन लगभग 3 से 5 लाख की बिक्री का पैसा गोदाम की तिजोरी में ही रखा जाता है जिससे मेरी नियत खराब हो गयी थी।

मै कई दिन पहले से ही चोरी करने की योजना बना रहा था तथा दुकान के मालिक के परिवार का बाहर जाने का इन्तजार कर रहा थां मेने योजना के तहत दालमण्डी से जाकर बुरखा और कटर खरीदकर लाया।

क्योंकि मोहल्ले में मुस्लिम महिलाये शाम के समय बुरखा पहनकर घूमती रहती है जिसका फायदा उठाकर मैने अपने द्वारा बनाई गयी योजना के तहत बुरखा को पहन लिया और एक बैग लिया जिसमें तिजोरी तोड़ने का कटर रख लिया तेल की गोदाम की दुकान बन्द होने के बाद समय लगभग 7-8 बजे शाम में ही मै गोदाम के बगल जाने वाली गली से अन्दर गया और तेल की गोदाम जालीदार खिड़की

के सहारे छत पर चढ़कर लेट गया जब रास्तें में लोगों का आना जाना कम हो गया तथा आस पास के मकान के लोग अपने अपने घरों में चले गये तब मै गोदाम की छत पर लगे दरवाजे की कुण्डी काटकर गोदाम में जाकर आलमारी में रखे नगर करीब एक लाख से अधिक रूपये, लैपटाप, पेनड्राइव को बैग में रखकर वहां से चला आया और बुरखा को निकालकर अपना टी शर्ट पहनकर भाग गया था।

वहीं पकड़े गये अभियुक्त पर जनपद के थाना जन्सा, लंका, कोतवाली में लगभग आधा दर्जन मुकदमें पंजीकृत है। गिरफ्तारी व बरामदगी करने वाली पुलिस टीम में राजीव कुमार सिंह प्रभारी निरीक्षक, उपनिरीक्षक सुमन यादव चौकी प्रभारी अम्बियामण्डी, उपनिरीक्षक पीयूष कुमार, हेडकांस्टेबल कुलदीप सिंह, हेडकांस्टेबल जितेन्द्र यादव, कांस्टेबल शिवम भारती, कांस्टेबल अखिलेश कुमार थाना कोतवाली शामिल रहे।

Varanasi Crime

Varanasi Crime

Varanasi Crime

Varanasi Crime