Varanasi Crime: माफियाओं के नाम पर अधिवक्ता से मांगी 50 लाख रंगदारी, मुकदमा हुआ दर्ज

 
Varanasi Crime
अधिवक्ता कौशिक कुमार पाण्डेय से माफिया सुभाष ठाकुर व सुजीत सिंह बेलवा के नाम पर मांगी गयी रंगदारी, 11 नामजद लोगों पर हुआ मुकदमा दर्ज

Varanasi Crime: वाराणसी जनपद के अधिवक्ता कौशिक कुमार पाण्डेय से 15 जुलाई 2023 को कुख्यात माफियाओं सुभाष ठाकुर व सुजीत सिंह बेलवा के नाम 50 लाख रूपये रंगदारी मांगने का मामला प्रकाश में आया है।

उक्त मामले के सम्बन्ध में बताया जाता है कि जनपद के शिवपुर थाना क्षेत्र के भगतपुर निवासिनी रीना तिवारी के द्वारा अधिवक्ता से 50 लाख रूपये रंगदारी मांगे जाने के मामले में चौबेपुर के कैथी निवासी अधिवक्ता कौशिक कुमार पाण्डेय के आवेदन पर कैण्ट पुलिस के द्वारा 11 नामजद और कई अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।

Varanasi Crime

जिसके लिये अधिवक्ता को न्यायालय का दरवाजा खटखटाना पड़ा। वहीं आरोप है कि रंगदारी न देने पर दुष्कर्म के आरोप में फंसाने की भी धमकी दी गयी है। बताया जाता है कि अधिवक्ता कौशिक कुमार पाण्डेय का आरोप है कि कोरोना काल में तलाकशुदा महिला रीना तिवारी उनके यहां नौकरी मांगने के लिये आयी थी, जिसे बतौर मुंशी के रख लिया गया।

बाद में महिला की गतिविधि ठीक न होने की बात पता चली तो उसे नौकरी से हटा दिया गया। दरअसल उसके दिल्ली से जेल जाने पर इसे छुड़वाना पड़ा था। आरोप है कि जुलाई 2023 में अपने गिरोह के लोगों को चैम्बर में भेजकर रीना ने धमकी भरा पत्र भिजवाया।

Varanasi Crime

जिसमें कुख्यात माफिया सुभाष ठाकुर और सुजीत सिंह बेलवा का नाम लेकर उनसे 50 लाख रूपये की रंगदारी मांगी गयी थी। वहीं रंगदारी न देने पर दुष्कर्म और अन्य आपराधिक मामलों में फंसाने की धमकी दी गयी।

अधिवक्ता के मुताबिक यह गिरोह इसके पहले भी कई लोगों से वसूली कर चुका है। आरोपित रीना शिवपुर थाना के भगतपुर की रहने वाली है। उसका एक गैंग है जिसमें कश्मीरीगंज खोजवां निवासी दुर्गाशंकर पाण्डेये उर्फ गुरू जी, हाथी बाजार निवासी बृजेश सिंह उर्फ पप्पू हाथी, अशोक सिंह गुप्ता, दुर्गाकुण्ड के कबीरनगर निवासी नमिता रूंगटा, महमूरगंज के निराला नगर निवासी नताशा लालवानी

Varanasi Crime

उर्फ वर्षा मेघानी, उसकी बहन नंदिनी मेघानी, अविनाश सिंह, पूजा सिंह, गंगा मिश्र उर्फ बिहारी पंडित भी शामिल है। वहीं प्रभारी निरीक्षक कैण्ट ने बताया कि न्यायालय के आदेश पर मुकदमा पंजीकृत कर लिया गया है।

Varanasi Crime