Varanasi Crime: वाराणसी के मारवाड़ी अस्पताल में हुये लाखों के गबन का आरोपी 10 महीने बाद गिरफ्तार

 
Varanasi Crime
वाराणसी जिले की पुलिस को बड़ी सफलता मिली है। मारवाड़ी अस्पताल के 67 लाख के गबन के आरोपी को 10 महीने बाद गिरफ्तार किया गया है। मामले में दशाश्वमेध थाने में जून 2023 में आठ लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया।

Varanasi Crime: वाराणसी जिले के गोदौलिया के श्री राम लक्ष्मी नारायण मारवाड़ी हिंदू अस्पताल के खाते से 67 लाख 41 हजार रुपये गबन करने के आरोपी को दशाश्वमेध थाने की पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आरोपी की पहचान नई दिल्ली के शशि गार्डेन, मयूर बिहार फेज-एक निवासी मृदुल सेन के रूप में हुई है।

मृदुल सेन ने मारवाड़ी अस्पताल में अकाउंटेंट रहते 67.41 लाख रुपये अलग-अलग खातों में ट्रांसफर किए थे। शापुरी हाइट्स, रथयात्रा निवासी गौरीशंकर नेवर की तहरीर पर नौ जून 2023 को दशाश्वमेध थाने में मुकदमा दर्ज किया गया था।

Varanasi Crime

आरोपियों में मृदुल सेन, पिता शंकर सेन, रिंपा सेन, कुंदन मिश्रा व उसकी मां सरिता मिश्रा, गोविंद चौहान, राहुल राज और गणेश कुमार शामिल हैं। गौरीशंकर के अनुसार मृदुल सेन लक्ष्मणपुर, गोदौलिया में परिवार के साथ रहता था। 

वह मारवाड़ी अस्पताल में 2013 से 2017 तक और वर्ष 2018 से अप्रैल 2022 तक अकाउंटेंट था। उसने अकाउंट बुक, कैश बुक और लेजर बुक में गलत एंट्री कर फर्जी तरीके से 67 लाख 41 हजार रुपये का गबन किया था।

इस गलत काम में सात अन्य आरोपियों ने मृदुल सेन की मदद की थी। उधर, दशाश्वमेध थानाध्यक्ष राकेश पाल ने बताया कि मुकदमा दर्ज होने के बाद मृदुल सेन शहर छोड़कर भाग गया था। दरोगा गौरव पांडेय और शुभेंदु दीक्षित की टीम ने मृदुल का पता लगाकर उसे गिरफ्तार किया है।

Varanasi Crime

Varanasi Crime

Varanasi Crime

Varanasi Crime