Varanasi Crime News: दूध कारोबारी की गोली मारकर हत्या, रात में टहलने निकला था घर से बाहर

 
Varanasi Crime News
वाराणसी में एक दूध व्‍यापारी सोनू यादव की गोली मारकर हत्‍या कर दी गई। घर से 10 मीटर दूर बुलेट और पल्सर पर सवार चार बदमाशो ने सिर में मारी गोली, हुई मौत 

Varanasi Crime News: पल्सर और बुलेट सवार चार बदमाशों ने गुरुवार देर रात करीब सवा 10 बजे मंडुआडीह थाना अंतर्गत जलालीपट्टी निवासी 28 वर्षीय सोनू यादव के सिर में गोली मारकर हत्या कर दी। वारदात को अंजाम देने के बाद बदमाश तमंचा लहराते हुए भाग निकले।

डीसीपी श्याम नारायण सिंह लोहता और रोहनिया थाने की फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे। प्राथमिक छानबीन में वारदात के पीछे पुरानी रंजिश सामने आई है। हालांकि, पुलिस अभी कुछ भी स्पष्ट रूप से बता नहीं पा रही है।

Varanasi Crime News

वर्ष 2012 में सोनू के पिता रामआशीष को सिर पर लोहे के राड से हमला कर मार डाला गया था। सोनू यादव अपने छोटे भाई राकेश के साथ गोशाला चलाते थे। रात में करीब 10 बजे सोनू स्वजन से टहलने जाने की बात कहकर पैदल ही निकले थे।

घर से बमुश्किल 10 मीटर दूर बुलेट और पल्सर पर सवार चार बदमाश ललकारते हुए हमलावर मुद्रा में दौड़े तो सोनू जान बचाने को चीखते हुए भागे भी, लेकिन बच नहीं सके। हो-हल्ला मचा तो पहुंचे स्वजन सोनू को लेकर बीएचयू के ट्रामा सेंटर ले गए, जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया।

Varanasi Crime News

इस बात की भनक लगते ही परिवार में कोहराम मच गया। पुलिस सीसीटीवी कैमरे के जरिए जांच में जुटी तो वारदात के बाद बुलेट और पल्सर से भागते बदमाश नजर आए। पुलिस को मौके से तीन जिंदा कारतूस, दो खोखा बरामद हुए है, जिससे दो गोली चलने की बात स्पष्ट हुई है।

बेटे का शव देख मां भुड़क्का देवी, पत्नी बबिता देवी और बहन बिलख उठीं। सोनू को छह माह की एक बच्ची है। पीड़ित परिवार ने डीसीपी को पुरानी रंजिश में घटना किए जाने की बात बताते हुए कुछ लोगों के नाम भी बताए हैं। सोनू यादव को मंडुआडीह थाने का हिस्ट्रीशीटर बताया जा रहा है।

Varanasi Crime News

उसके खिलाफ जानलेवा हमला समेत सात मुकदमे दर्ज हैं। पुलिस आयुक्त मोहित अग्रवाल ने क्राइम ब्रांच टीम को बदमाशों की गिरफ्तारी के लिए लगाया है। कुछ माह पूर्व सोनू यादव को कुछ लोगों से विवाद होने की बात भी सामने आई है।

थोड़ी ही देर बाद परिजन नाथूपुर रेलवे क्राॅसिंग पर सोनू की लाश लेकर पहुंच गए और भीषण जाम कर दिया। चक्काजाम की सूचना पर पहुंची पुलिस ने परिजनों को समझाने की कोशिश की। परिजन सोनू के नवजात बच्चे को सामने रखकर प्रदर्शन करने लगे।

Varanasi Crime News

उन्होंने मांग की कि मौके पर जिलाधिकारी को बुलाया जाए। साथ ही आरोपियों के घर पर बुलडोजर की कार्रवाई हो। सोनू यादव की हत्या के बाद उसकी मां भुड़क्का देवी और पत्नी बबिता देवी की हालत बेसुधों जैसी थी। मां और पत्नी होश में आने पर बार-बार यही कह रहीं थी कि हे भगवान ई का अनर्थ हो गईल...?

सोनू की मां और पत्नी को संभालने में परिजनों का पसीना छूट जा रहा था। बबिता का कहना था कि आठ माह के बच्चे को हम कैसे पालेंगे और हमारी गुजर-बसर कैसे होगी...? यही रटते हुए बबिता फिर बेसुध हो जा रही थी।

Varanasi Crime News