Varanasi Crime News: उ0प्र0 राज्य बाल अधिकार संरक्षण आयोग ने किया पीड़ित परिवार से मुलाकात, बंधाया ढ़ांढ़स

 
Varanasi Crime News
मामला नाबालिग लड़की की हत्या कर शव को पानी की टंकी में फेंक देने की घटना का

Varanasi Crime News: वाराणसी। जनपद मे उत्तर प्रदेश राज्य बाल अधिकार संरक्षण आयोग, थाना एएचटी, विशेष किशोर पुलिस इकाई की संयुक्त टीम द्वारा थाना कैण्ट के अन्तर्गत नाबालिग लड़की की हत्या कर शव को पानी की टंकी में फेंक देने की घटना का संज्ञान लेकर घटनास्थल का भ्रमण व निरीक्षण कर पीड़ित परिवार से मुलाकात किया तथा पीड़ित परिवार को त्वरित न्याय दिलाने व आर्थिक सहायता व अनुदान राशि प्रदान करने का आश्वासन दिया गया।

Varanasi Crime News

घटना के सम्बन्ध में बताते चले कि दिनांक 27/6/24 को वादिनी अनीता देवी निवासिनी राजाबाजार कैण्ट के द्वारा थाना कैण्ट पर प्रार्थना पत्र दिया गया जिसमें उनकी 13 वर्षीय पुत्री के दिनांक 26/6/24 को घर से कहीं चले जाने के सम्बन्ध में थाना कैण्ट वाराणसी पर मुअसं. 246/24 धारा 363 आईपीसी पंजीकृत किया गया।

जिसमें दिनांक 28/6/24 को वादिनी की पुत्री का शव पानी की टंकी में बरामद होने व अभियुक्त आशीष उर्फ गोलू निवासी राजाबाजार कैण्ट की गिरफ्तारी व बयान के आधार पर मुकदमा उपरोक्त में धारा 302 व 201 आईपीसी की बढ़ोत्तरी के साथ ही धारा 376ए आईपीसी व 5/6 पाॅक्सो एक्ट की बढ़ोत्तरी की गयी।

Varanasi Crime News

जिसकी विवेचना प्रभारी निरीक्षक अजय राज वर्मा थाना कैण्ट द्वारा सम्पादित की जा रही है। वहीं उक्त गिरफ्तारी व शव बरामदगी के सम्बन्ध में पुलिस उपायुक्त वरूणा जोन चन्द्रकांत मीणा के द्वारा पत्रकारवार्ता में जानकारी दी गयी है।

Varanasi Crime News

वहीं अभियुक्त की गिरफ्तारी करने वाली टीम में थाना प्रभारी अजय राज वर्मा, उपनिरीक्षण आयुष पाण्डेय, हेड कांस्टेबल बृज बिहारी ओझा, हेड कांस्टेबल सुरेन्द्र प्रसाद के साथ ही थाना कैण्ट की पुलिस टीम व एसओजी प्रभारी उपनिरीक्षक मनीष मिश्रा व उनकी टीम शामिल रही।

Varanasi Crime News

पीड़ित परिवार से मुलाकात करने वालों में निर्मला सिंह पटेल, इंजीनियर अशोक यादव सदस्य उ.प्र. राज्य बाल अधिकार संरक्षण आयोग, ममता रानी अपर पुलिस उपायुक्त महिला अपराध, स्नेहा उपाध्याय अध्यक्षा बाल कल्याण समिति, निरूपमा सिंह प्रभारी जिला बाल संरक्षण इकाई, परमहंस गुप्त प्रभारी थाना एएचटी, अनिता चौहान प्रभारी एसजेपीयू कमिश्नरेट वाराणसी शामिल रहे।