Varanasi Crime News: महज 50 हजार के लिये कर दिया युवक की हत्या

 
Varanasi Crime News
कैंट थाना क्षेत्र के कचहरी चौराहे पर बन रहे निर्माणाधीन भवन में दिया घटना को अंजाम

महज चंद घण्टों मे ही कैंट पुलिस व क्राइम ब्रांच ने हत्यारे सोहराब को गिरफ्तार कर घटना का किया सफल अनावरण

Varanasi Crime News: पुलिस आयुक्त वाराणसी के अपराधों की रोकथाम, चोरी, लूट, हत्या की घटनाओ के सफल अनावरण एवं वांछित/फरार अभियुक्तों की गिरफ्तारी हेतु चलाये जा रहे अभियान के क्रम में पुलिस उपायुक्त वरुणा ज़ोन के निर्देशन मे अपर पुलिस उपायुक्त वरुणा ज़ोन के पर्यवेक्षण मे एवं सहायक पुलिस आयुक्त कैण्ट के नेतृत्व में कमिश्नरेट वाराणसी की क्राइम ब्रांच व थाना कैण्ट की संयुक्त पुलिस टीम द्वारा इलेक्ट्रानिक साक्ष्य व मुखबीर

की सहायता से मुअसं. 182/2024 धारा 302 आईपीसी थाना कैण्ट कमिश्नरेट वाराणसी से संबंधित वांछित अभियुक्त सोहराब आलम पुत्र मो0 सुलेमान निवासी-एन 13/32 ए-आर-6 सराय सुर्जन बजरडीहा, थाना भेलूपुर वाराणसी को घटना के कुछ घण्टो के बाद ही वरूणा पुल के नीचे से गिरफ्तार कर लिया गया।

Varanasi Crime News

उक्त के सम्बन्ध में थाना कैण्ट पुलिस द्वारा अग्रेतर विधिक कार्यवाही की जा रही है। वहीं सराहनीय कार्य करने वाली पुलिस टीम को अपर पुलिस उपायुक्त वरुणा ज़ोन द्वारा 15000/- रु0 इनाम की घोषणा भी की गयी है। घटना के सम्बन्ध में बताया जाता है कि वादी मुकदमा मो. कलामुद्दीन पुत्र स्व. हाजी मो. निजामुद्दीन खान निवासी-C 4/52 सराय गोवर्धन बेनिया थाना चेतगंज वाराणसी, हाल पता सर सैयद समिति सातो महुवा नई बस्ती Plot no-9 थाना

बड़ागांव वाराणसी ने लिखित प्रार्थना पत्र दिया कि उनका पुत्र इजहार अहमद उर्फ बाबर मकान बनाने का ठेका लेने वाले ठेकेदार के साथ सुपरवाइजर का काम करता था। जिनका काम इस समय शैल कुमारी पत्नी विश्वनाथ सिंह निवासिनी एस 7/2 गोलघर कचहरी थाना कैंट जनपद वाराणसी के मकान मे चल रहा था और आज दिनांक-16.05.2024 को भोर मे करीब 4 बजे उपरोक्त मकान मे ढलाई का काम चल रहा था।

जहाँ पर उनका लड़का इजहार अहमद उर्फ बाबर मौजूद था। उसी दौरान कार्यस्थल पर ही विपक्षी सोहराब आ गया और पैसे के लेन-देन को लेकर उनके लड़के से वाद-विवाद करने लगा तथा उसी दौरान बल्ली के डंडे से उनके लड़के इजहार के सर पर कई वार करके उसकी हत्या कर दिया।

जिसके आधार पर थाना कैंट मे मुअसं. 182/2024 धारा 302 भादवि पंजीकृत किया गया। जिसकी विवेचना प्रभारी निरीक्षक अजय राज वर्मा थाना कैण्ट वाराणसी द्वारा सम्पादित की जा रही है। पूछताछ के क्रम में अभियुक्त सोहराब आलम ने बताया कि इजहार अहमद उर्फ बाबर और मैं दोनों लोग मकान बनाने का ठेका लेते हैं।

बाबर का कुछ पैसा मेरे पास बकाया था।जिसे वह मुझसे बार-बार मांगता रहता था और इस समय मेरे पास पैसे नहीं थे जिस कारण मैं पैसा वापस नहीं कर पा रहा था। इसी बीच मैं जब भी किसी मकान बनाने का ठेका लेता था तो बाबर जाकर ग्राहक को भड़का देता था और कहता था कि काम करना है तो मुझे कमीशन देना होगा।

जब मुझे जानकारी हुई कि आज बाबर गोलघर कचहरी के पास साइड पर ढलईया करा रहा है तो मैं भी वहां पहुंच कर बाबर से पूछा कि मैं जहां भी काम लेने का प्रयास करता हूं तुम उसे भड़का देते हो इसी बात पर हम दोनों की कहा-सुनी होने लगी तो मैने गुस्से में आकर पास में पड़े बल्ली से बाबर के ऊपर वार कर दिया।

जिससे बाबर लहू लुहान होकर वहीं गिर गया और मैं वहां से भाग गया। गिरफ्तारी करने वाली पुलिस टीम में प्रभारी निरीक्षक अजय राज वर्मा, उपनिरिक्षक पवन पाठक, उपनिरिक्षक आयुष पाण्डेय, हेड कांस्टेबल बृज बिहारी ओझा, कांस्टेबल सचिन मिश्रा थाना कैण्ट कमिश्नरेट वाराणसी के साथ ही क्राइम ब्रान्च से उपनिरिक्षक गौरव सिंह सर्विलान्स सेल व हेड कांस्टेबल दिवाकर वत्स शामिल रहे।

Varanasi Crime News

Varanasi Crime News

Varanasi Crime News

Varanasi Crime News