Varanasi Crime: तो क्या स्पा पार्लर की आड़ में चल रहा है जिस्म फरोसी का धंधा ?

 
Varanasi Crime: So is the body trade going on under the guise of a spa parlour?
सूत्रों के अनुसार वाराणसी जनपद के सिगरा थाना क्षेत्र के साजन तिराहे पर स्पा की आड़ में चल रहा है जिस्म फरोसी का धंधा

सूत्र बताते है कि उक्त स्पा पार्लर का संचालक सीतापुर निवासी धीरेन्द्र अवस्थी नामक व्यक्ति बताया जाता है

भुवनेश्वरी मलिक 

Varanasi Crime: धर्म व अध्यात्म की नगरी काशी सदियों से धर्म, ज्ञान व संस्कृति के लिये जानी पहचानी जाती है, साथ ही काशी के सांसद नरेन्द्र मोदी जब से देश के प्रधानमंत्री बने तब से काशी का नाम विश्व पटल पर सर्वोच्च स्थान पर है, परन्तु विगत कुछ सालों से काशी नगरी में अपराधी मानसिकता व असामाजिक तत्वों का जमावड़ा भी बढ़ता चला गया।

जिसके तहत काशी में आनलाइन सट्टेबाजी, लाटरी व देह व्यापार के धन्धे ने भी अपना पांव पसारना शुरू कर दिया। वहीं यदि बात की जाये प्रदेश के मुखिया योगी आदित्यनाथ की तो उनके द्वारा लगातार प्रदेश के पुलिस प्रशासन को अपराध व आपराधिक मानसिकता वाले लोगों पर नकेल कसने का आदेष निर्देश दिया जाता है, परन्तु प्रदेश के कुछ ही जनपद ऐसे है जहां कानून व्यवस्था का शत शत

Varanasi Crime: So is the body trade going on under the guise of a spa parlour?

प्रतिशत पालन ही हो पाता हो। अब यदि बात की जाये काशी यानि वाराणसी की तो जनपद में सारे अवैध कार्य बड़ी ही तेजी से किये जा रहे है। जिन्हे देखकर ऐसा लगता है कि कहीं न कहीं प्रशासनिक उदासीनता भी इसके पीछे का मुख्य कारण बनता जा रहा है।

Varanasi Crime: So is the body trade going on under the guise of a spa parlour?

वहीं सूत्र बताते है कि वाराणसी जनपद के सिगरा थाना क्षेत्र के साजन तिराहे पर स्थित एबीसी टावर के प्रथम तल पर डायमण्ड स्पा व सैलून का संचालन सीतापुर निवासी धीरेन्द्र अवस्थी नामक व्यक्ति के द्वारा किया जा रहा है।

Varanasi Crime: So is the body trade going on under the guise of a spa parlour?

जहां पर 3-4 महिलाओं व एक पुरूष को स्पा पार्लर के संचालन की जिम्मेदारी दी गयी है, जहां मोटी रकम लेकर पुरूषो का मसाज आदि करने के साथ ही शारीरिक सुख की भी सुविधा उपलब्ध करायी जाती है।

Varanasi Crime: So is the body trade going on under the guise of a spa parlour?

वहीं सूत्रों का कहना है कि देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के द्वारा व्यापार को बढ़ावा देने की नियत से डिजिटल इण्डिया का अभियान प्रारम्भ किया गया है जिसका नाजायज लाभ ऐसे स्पा पार्लर चलाने वाले लोग उठा रहे है जिनके द्वारा बाकायदा इण्टरनेट के माध्यम से अपना मोबाईल नम्बर उपलब्ध कराया गया है जिस पर कस्टमर अपनी बुकिंग करा सकता है और आनलाइन पेमेन्ट भी जमा करा सकता है

Varanasi Crime: So is the body trade going on under the guise of a spa parlour?

जिसके बाद कस्टमर को वो सारी सुविधाये उपलब्ध करायी जाती है जो एक सभ्य समाज के माथे पर कलंक का टिका है। वहीं यदि जिला प्रशासन के द्वारा इस अवैध धन्धे पर जल्द लगाम नहीं लगाया गया तो वो दिन दूर नहीं जब विश्व पटल पर अपना एक अलग ही स्थान रखने वाली काशी बदनाम हो जायेगी। आगे तफ्तीश जारी है।