Varanasi Crime: जबरन अप्राकृतिक यौन सम्बन्ध बनाने व लूट के मामले में बीएचयू के दो छात्र गिरफ्तार

 
Varanasi Crime
चिकित्सक के साथ दिया था घटना को अंजाम

Varanasi Crime: ग्रेन्डर व मैसेंजर एप्प के माध्यम से चिकित्सक को फंसाकर उनके साथ बीएचयू के रूईया छात्रावास में जबरदस्ती अप्राकृतिक सम्बन्ध बनाने एवं कमरे में बंद करके मारपीट करते हुये सोने की चेन, लाॅकेट व अंगूठी लूटने एवं कुल 60 हजार रूपये रंगदारी वसूलने वाले बीएचयू के शास्त्रीय संकाय तृतीय वर्ष के दो छात्रों को लंका पुलिस के द्वारा गिरफ्तार किया गया है।

बताते चले कि पुलिस आयुक्त वाराणसी मुथा अशोक जैन के द्वारा कमिश्नरेट क्षेत्र में होने वाली जघन्य आपराधिक घटनाओं की रोकथाम एवं लूटी/चोरी गयी सम्पत्ति की बरामदगी हेतु दिये गये निर्देशो के अनुपालन में पुलिस उपायुक्त काशी जोन रामसेवक गौतम के निर्देशन में व अपर पुलिस उपायुक्त काशी जोन चन्द्रकांत मीणा व सहायक पुलिस आयुक्त भेलूपुर डा. अतुल अंजान त्रिपाठी के मार्गदर्शन एवं

Varanasi Crime

थाना प्रभारी लंका शिवाकांत मिश्रा के कुशल नेतृत्व में लंका पुलिस द्वारा नरिया तिराहे के पास से दो अभियुक्तों श्रीमन नारायण शुक्ल निवासी पूर्वी सहोदरपुर थाना कोतवाली सदर जनपद प्रतापगढ़ व सूरज दुबे निवासी छिड़ीचैरा थाना सादियाबाद जनपद गाजीपुर को गिरफ्तार कर लिया गया।

वहीं पुलिस के द्वारा पकड़े गये अभियुक्तों के पास से लूटी गयी पीली धातु की चेन व लाॅकेट व एक पीली धातु की अंगूठी को भी बरामद करने के साथ ही घटना में प्रयोग किये गये एक एनड्रायड मोबाईल फोन को भी बरामद किया गया।

Varanasi Crime

जिसके सम्बन्ध में आवश्यक विधिक कार्यवाही की जा रही है। जिसके सम्बन्ध में थाना लंका पर मुकदमा अपराध संख्या 43/2024 विभिन्न गंभीर धाराओं में दर्ज किया गया है। उक्त जानकारी पत्रकारवार्ता के दौरान डीसीपी काशी जोन रामसेवक गौतम ने दी।

वहीं पत्रकारवार्ता में एडीसीपी काशी जोन चन्द्रकांत मीणा, सहायक पुलिस आयुक्त भेलूपुर डा. अतुल अंजान त्रिपाठी व प्रशिक्षु आईपीएस देवेन्द्र कुमार उपस्थित रहे। वहीं अभियुक्तों को गिरफ्तार करने वाली टीम में थाना प्रभारी लंका शिवाकांत मिश्रा, निरीक्षक शिवधारी पासवान, चौकी प्रभारी नगवां अजय कुमार, चौकी प्रभारी बीएचयू शिवाकार मिश्रा, उनि. आदित्य कुमार राय सहित थाना लंका के

Varanasi Crime

पुलिसकर्मीगण शामिल रहे। वहीं उक्त घटना का अनावरण करने वाली टीम को डीसीपी काशी जोन के द्वारा 20 हजार रूपये नगद पुरस्कार देने की भी घोषणा करने के साथ ही एडीसीपी काशी जोन चन्द्रकांत मीणा व सहायक पुलिस आयुक्त भेलूपुर डा. अतुल अंजान त्रिपाठी को प्रशस्ति पत्र देने की भी घोषणा किया गया।

Varanasi Crime