Varanasi News: नगर निगम का BHU पर 52 करोड़ रुपये बकाया, निगम कर रहा है एक्शन की तैयारी

 
Varanasi News
वाराणसी नगर निगम बड़े बकायेदारों पर अभियान चलाने की तैयारी में है। इस दौरान सील और कुर्की की कार्रवाई करने की तैयारी है। निगम के सबसे बड़े बकायेदार बीएचयू पर 52 करोड़ रुपये बाकी है। 

Varanasi News: वाराणसी नगर निगम के सबसे बड़े बकायेदार बीएचयू पर अकेले गृहकर का 52 करोड़ रुपये बाकी है। इसके अलावा रोडवेज, भारतीय स्टेट बैंक, जीवन बीमा निगम सहित कई बड़े बकायेदार हैं। सभी को नगर निगम की ओर से नोटिस भेजा जा रहा है।

नगर निगम में भवन स्वामियों की संख्या 2.20 लाख है। नगर निगम बड़े बकायेदारों पर अभियान चलाकर सील और कुर्की की कार्रवाई करने की तैयारी में है। गृहकर मद में नगर निगम का कुल 58 करोड़ रुपये बाकी है। रोडवेज का 60 लाख रुपये गृहकर बाकी है।

Varanasi News

कुछ विभागों ने नगर निगम से मार्च तक बकाये को समायोजित करने का समय लिया है। बीएचयू के दो हिस्से हैं। एक कॉमर्शियल और एक रिहायशी। इस आधार पर टैक्स के निर्धारण को लेकर संशय की स्थिति रही है। बीएचयू में बकाये से जुड़ा मामला अदालत में विचाराधीन है।

उम्मीद है जल्द ही इस संबंध में कोई निर्णय होगा। इस वित्तीय वर्ष नगर निगम ने 84 करोड़ रुपये गृहकर वसूली का लक्ष्य रखा है। अब तक निगम ने 48 करोड़ रुपये से अधिक की वसूली कर ली है। आने वाले दो महीनों में 36 करोड़ रुपये वसूलने का लक्ष्य रखा गया है।

Varanasi News

टॉप टेन बकायेदारों की सूची - दशाश्वमेध के राजन कुमार जायसवाल -40.51, वरुणापार के भारतीय स्टेट बैंक आफ इंडिया - 20.48, दशाश्वमेध के मिंटू सिंह - 20.09, कोतवाली के दीपक शापुरी - 15.16, कोतवाली के गुर्जर छात्र सहायक समिति - 14.71, कोतवाली के डीएवी कॉलेज - 14.63, दशाश्वमेध के दामोदर सिंह 14.49, दशाश्वमेध के महेंद्र प्रताप दूबे - 14.17, भेलूपुर के जीवन बीमा निगम के मैनेजर - 11.36, कोतवाली के श्रीमहंत इंद्रजीत सिंह - 11.11 शामिल है। 

अस्सी पर पप्पू की चाय की अड़ी वाले मारवाड़ी संघ भवन की जांच जारी है। नगर निगम की ओर से संघ भवन को 59.71 लाख रुपये गृहकर के बकाये का नोटिस दिया था। इसी भवन में पप्पू की चाय की अड़ी और गोपाल चौरसिया की पान की दुकान है।

Varanasi News

इसी दुकान पर 2022 में विधानसभा चुनाव के दौरान प्रधानमंत्री ने चाय पी थी और पान खाया था। चार दिन पहले एक कर्मचारी ने भवन में ताला लगाने की बात कहकर चला गया। नगर आयुक्त अक्षत वर्मा के अनुसार गृहकर बकाये से जुड़ा मामला है। उनकी ओर से कोई प्रत्यावेदन नहीं आया है।

Varanasi News

Varanasi News