Varanasi Police: वाराणसी पुलिस आई एक्शन में, तीन मामलों में दर्ज हुई एफआईआर

 
Varanasi Police
वाराणसी पुलिस ने तीन अलग- अलग महिला प्रताड़ना के मामले में मुकदमा दर्ज किया है। 

Varanasi Police: दहेज में पांच लाख रुपये और कार की मांग पूरी न होने पर एक विवाहिता को ससुराल में इस कदर प्रताड़ित किया गया कि सात माह में ही शादी टूटने की कगार पर आ गई। प्रकरण को लेकर न्यू लोको कॉलोनी, छित्तूपुर की प्रगति श्रीवास्तव की तहरीर के आधार पर सिगरा थाने में कबीरचौरा के मूल निवासी और ग्रेटर नोएडा के सेक्टर 16-बी स्थित ग्रीन रेजिडेंसी में रहने वाले राहुल प्रकाश श्रीवास्तव, अरुण प्रकाश श्रीवास्तव, नीरज प्रकाश श्रीवास्तव, सताक्षी श्रीवास्तव और आकांक्षा रायजादा के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।

प्रगति श्रीवास्तव ने पुलिस को बताया कि उनका विवाह राहुल प्रकाश के साथ एक जून 2023 को हुआ था। उनके पिता ने उनकी शादी में लगभग 25 लाख रुपये खर्च किए थे। ससुराल आने के कुछ समय बाद उन्हें मायके से पांच लाख रुपये और 10 लाख रुपये की एक कार मंगवाने के लिए कहा गया।

Varanasi Police

मांग पूरी न होने पर उन्हें ससुराल में प्रताड़ित किया जाने लगा। इसके बाद उन्हें ससुराल से निकाल दिया गया। पहले तो उन्हें लगा कि पति और ससुराल के अन्य लोगों के रवैये में सुधार आएगा, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। इसलिए विवश होकर उन्होंने तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की।

ससुराल वालों ने इतना पीटा कि हो गया गर्भपात - दहेज में बाइक की मांग पूरी न होने पर पति और सास-ससुर ने इतना मारापीटा कि गर्भपात हो गया। प्रकरण को लेकर दया नगर, छित्तूपुर की रहने वाली रोशनी की तहरीर के आधार पर सिगरा थाने में भदऊं चुंगी, रेलवे क्वार्टर निवासी उसके पति सूरज, सास मुन्नी देवी ससुर संतोष के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।

Varanasi Police

रोशनी ने पुलिस को बताया कि सूरज से उसका विवाह 29 जून 2020 को हुआ था। शादी के बाद से ही मायके से बुलेट मोटरसाइकिल मंगवाने का दबाव बनाया जाने लगा। मांग पूरी न होने पर लगभग चार-पांच माह बाद उसे इस तरह से पीटा गया कि उसका गर्भपात हो गया।

उसकी दवा न करा कर उसे मायके भेज दिया गया। 23 सितंबर 2021 को उस पर चाकू से वार कर उसे घर से भगा दिया गया। इसके बाद दोनों पक्षों में समझौता हुआ और तय किया गया कि उसे अब ससुराल में परेशान नहीं किया जाएगा। मगर, इधर उसके पति और सास-ससुर ने उसे फिर मारपीट कर मायके भेज दिया गया।

Varanasi Police

भूखे-प्यासे कमरे में बंद रखा - पुलिस आयुक्त के निर्देश पर बड़ागांव थाने की पुलिस ने एक विवाहिता के प्रार्थना पत्र पर उसके पति सहित छह लोगों के खिलाफ दहेज उत्पीड़न का मुकदमा दर्ज किया है। रामपुर गांव की रहने वाली ममता देवी के अनुसार, उसकी शादी भदोही के गोपीगंज में शिवकुमार के पुत्र आकाश गुप्ता के साथ लगभग चार वर्ष पूर्व हुई थी।

ससुराल पक्ष के लोग दहेज में बाइक की मांग को लेकर आए दिन प्रताड़ित करते रहते थे। मांग पूरी न होने पर उसे भूखे-प्यासे कमरे में बंद करके रखा जाता था। पुलिस ने ममता की तहरीर पर पति आकाश, सास मंजू, जेठ सुरज, जेठानी सपना, ननद पुजा गुप्ता और पारिवारिक मित्र पंकज के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

Varanasi Police

Varanasi Police