Yogi Adityanath and Bhagwat Meeting: RSS चीफ भागवत ने एक दिन में CM योगी के साथ की दो मीटिंग, यूपी की सियासत में हलचल

 
Yogi Adityanath and Bhagwat Meeting
रिपोर्ट के अनुसार, सीएम योगी और मोहन भागवत के बीच पहली बैठक शनिवार दोपहर कैंपियरगंज इलाके में हुई, जबकि दोनों के बीच दूसरी बैठक पक्कीबाग इलाके में सरस्वती शिशु मंदिर में हुई।

Yogi Adityanath and Bhagwat Meeting: लोकसभा चुनाव 2024 में उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी (BJP) के खराब प्रदर्शन के बाद से कई तरह की चर्चाएं चल रही हैं। इस बीच खबर है कि आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार (15 जून 2024) को गोरखपुर में कथित तौर पर बंद कमरे में दो बैठकें कीं. यह बैठक करीब 30 मिनट तक चली।

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, आदित्यनाथ ने शनिवार दोपहर कैंपियरगंज इलाके के एक स्कूल में भागवत से पहली मुलाकात की। मोहन भागवत यहां संघ के एक कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे थे। सीएम योगी आदित्यनाथ और मोहन भागवत के बीच दूसरी बैठक पक्कीबाग इलाके में सरस्वती शिशु मंदिर में रात करीब 8:30 बजे हुई।

Yogi Adityanath and Bhagwat Meeting

चर्चा है कि मोहन भागवत का यह दौरा नियमित नहीं है। तीन दशकों से संघ से जुड़े एक वरिष्ठ भाजपा नेता का कहना है कि भागवत उत्तर प्रदेश में हार के पीछे के प्रमुख कारणों पर आदित्यनाथ के साथ चर्चा करने वाले थे। हो सकता है कि ये दोनों बैठक इसलिए ही हुई हो।

Yogi Adityanath and Bhagwat Meeting

दरअसल  भाजपा यूपी में सबसे मजबूत स्थिति में दिख रही थी, लेकिन नतीजे उसके उलट रहे। यहां की 80 सीटों में से बीजेपी ने 33 पर ही जीत दर्ज की। जबकि 2014 के लोकसभा चुनाव में पार्टी ने यहां से 71 सीटें और 2019 लोकसभा चुनाव में 62 सीटें जीती थीं।

Yogi Adityanath and Bhagwat Meeting

दूसरी तरफ इंडिया गठबंधन ने यूपी में 43 सीटें जीती हैं। इसमें से 37 पर सपा को और छह पर कांग्रेस को जीत मिली है। यूपी में सबसे ज्यादा चौंकाने वाले नतीजे अयोध्या मंडल से रहे। दरअसल, अयोध्या राम मंदिर के भरोसे बीजेपी पूरे देश में बेहतर नतीजों की उम्मीद लगाए बैठी थी।

Yogi Adityanath and Bhagwat Meeting

लेकिन पार्टी अयोध्या मंडल की अधिकतर सीटें हार गईं। यही नहीं, अयोध्या राम मंदिर जिस फैजाबाद सीट के तहत आता है, बीजेपी वहां भी जीत दर्ज नहीं कर पाई।